आदमी पार्टी के कामों में हस्तक्षेप करने का काम कर रहे हैंं उपराज्यपाल : दुर्गेश पाठक

आम आदमी पार्टी से राजेंद्र नगर के विधायक एवं एमसीडी प्रभारी दुर्गेश पाठक ने दिल्ली में कानून – व्यवस्था के मुद्दे पर केंद्र और दिल्ली पुलिस को घेरा हैl शुक्रवार को पार्टी मुख्यालय में एक महत्वपूर्ण प्रेसवार्ता को संबोधित करते हुए दुर्गेश पाठक ने कहा कि  दिल्ली में प्रतिदिन भयावह अपराध हो रहे हैं लेकिन इसको रोकने के लिए कोई कदम नहीं उठाया जा रहा है। दुर्गेश पाठक ने कहा कि दिल्ली में पुलिस की कानून व्यवस्था इतनी खराब हो चुकी है कि पिछले वर्ष की तुलना में इस वर्ष अपराध की वारदातों में 15% की बढ़ोतरी हुई है। 

2021 और 2022 के शुरुआती 6 महीनों के आंकड़े देखें तो 2021 में चोरी के 2302 मामले तो इस साल 9450 मामले देखने को मिले। आप नेता ने कहा कि पिछले साल हत्या की कोशिश के 296 मामले तो इस साल 418 मामले देखने को मिले। स्नैचिंग के मामले पिछले साल 4124 रहे तो इस साल 4660 मामले हुए। मर्डर के मामले पिछले साल 214 थे तो इस साल 253 मामले हुए।

दर्गेश पाठक ने भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि भाजपा की दिल्ली पुलिस के नेतृत्व में धीरे-धीरे दिल्ली एक ‘क्राइम सिटी’ बनती जा रही है और देश की सभी मेट्रो सिटीज की तुलना में दिल्ली में बलात्कार के 40% अधिक मामले होते हैं। उन्होंने कहा कि दिल्ली में लगातार हो रहे क्राइम से  दिल्लीवासी डरे हुए हैं। लेकिन दिल्ली पुलिस इन सब मामलों की रोकथाम करने के बजाय आम आदमी पार्टी के नेताओं पर अनाप-शनाप आरोपों में फंसाकर उन्हें जेल भेजने की कोशिश में लगी रहती है।  

प्रेसवार्ता के दौरान आप विधायक दुर्गेश पाठक ने दिल्ली के उपराज्यपाल विनय कुमार सक्सैना भी घेरा और कहा कि दिल्ली पुलिस के हेड यानी कि दिल्ली के नए एलजी साहब सिर्फ और सिर्फ आम आदमी पार्टी के कामों में हस्तक्षेप करने का काम कर रहे हैं। 22 मई को उनकी ड्यूटी की शुरुआत हुई और उसी दिन उन्होंने 40 अधिकारियों को ट्रांसफर कर दिया। इसके लिए न तो उन्होंने दिल्ली सरकार के साथ चर्चा की और न ही स्टैंडिंग कॉउंसिल से कोई बात की। पाठक ने कहा कि उन्होंने कहा कि एलजी साहब के लगातार हस्तक्षेप के कारण दिल्ली की बसों की खरीद में समस्या आ रही है।

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending