लव जिहाद: हिंदू बनकर धोखे से शादी रचाई, बेटी पैदा होने पर बनाया इस्लाम अपनाने का दबाव

उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश समेत गुजरात में लव जिहाद कानून बनने के बाद भी इसके बढ़ते मामले थमने का नाम नहीं ले रहें भारत में प्रतिदिन 35 फीसदी लड़कियां रोजाना इसका शिकार बनती रहती है। ऐसा ही एक ताजा मामला हरियाणा के फतेहाबाद जिले के टोहाना कस्बे से आया है। जहां सात साल पहले एक मुस्लिम युवक ने अपना नाम पहचान और मजहब छुपाकर हिंदू युवती को अपने प्रेम जाल में फंसाकर शादी रचाई। इसके कुछ साल बाद बेटी पैदा होने पर युवती को इस्लाम कुबूल कर धर्म परिवर्तन का दबाव बनाया। 
युवक की पहचान उजागर होने पर पुलिस के पास शिकायत लेकर पहुंची पीड़िता की पुलिस से लेकर प्रशासन तक कहीं कोई सुनवाई नहीं हुई जिससे परेशान होकर युवती शुक्रवार दोपहर उप सचिवालय के गेट पर जाकर धरने पर बैठ गई। महिला के धरने पर बैठने की खबर मिलते ही पुलिस प्रशासन के होश उड़ गए। आनन-फानन में पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपित के खिलाफ कार्रवाई शुरू कर दी है।

पीड़िता राजविंदर कौर ने बताया, 7 साल पहले उसकी शादी रमेश नाम के शख्स के साथ हुई थी। शादी के वक्त रमेश ने अपने आप को हिंदू धर्म का बताया था और मंदिर में उनकी शादी हुई। करीब साढ़े 3 साल पहले उसने एक लड़की को जन्म दिया और बेटी के पैदा होने के बाद मैं अपने पति को अपने घर (ससुराल) जाने का दबाव डालने लगी लेकिन रमेश अपने परिवार के पास राजविंदर को ले जाने के लिए राजी नहीं था। अपार परिश्रम के बाद पीड़ित महिला राजविंदर कौर रमेश के परिवार तक पहुंचने में सफल हुई तो उसे पता चला कि रमेश मुस्लिम धर्म से संबंध रखता है।
राजविंदर कौर ने बताया कि जब से उसे पता चला कि उसका पति मुस्लिम धर्म से है, इसके बाद से ही आरोपित ने महिला पर इस्लाम धर्म अपनाने का दवाब बनाना शुरू कर दिया। मना करने पर उसने महिला और उसकी साढ़े तीन साल की बच्ची को बीच सड़क पर छोड़ दिया। अब पीड़िता अपनी बेटी के साथ किराए के मकान में रहने को मजबूर है।
पुलिस अधिकारियों के पास कार्रवाई के लिए पीड़िता चक्कर काट-काट कर थक चुकी थी। जिससे परेशान होकर महिला को मजबूरन धरने पर बैठना पड़ा। धरने पर बैठने के बाद एसपी ने पीड़िता को ऑफिस में बुलाया और पीड़ित महिला को 2 से 4 दिन में कार्रवाई करवाने का आश्वासन दिया है।
पीड़िता के अनुसार आरोपी युवक के जाल में उसे फंसाने में स्थानीय लोगों का भी हाथ है और उनके खिलाफ भी वह कार्रवाई चाहती है। पीड़िता ने बताया अब उसकी इतनी दयनीय हालत है कि वह कमाने खाने की स्थिति में भी नहीं है और किराए के मकान में रहने के लिए मजबूर है।

वहीं पीड़िता की शिकायत पर फतेहाबाद के डीएसपी सुभाष चंद्र ने बताया कि जबरन धर्म परिवर्तन करने और धोखे से शादी करने के मामले में पीड़िता राजविंदर कौर की शिकायत पर संज्ञान लिया गया है और उसकी शिकायत को जांच के लिए महिला थाना में भेजा गया है।

डीएसपी ने बताया कि, पीड़िता की सुनवाई नहीं करने वाले पुलिस अधिकारियों और कर्मचारियों से भी पूछताछ की जाएगी और जांच की जाएगी. जांच के बाद जो भी कर्मचारी या अधिकारी मामले में दोषी पाया जाएगा उसके खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी। पीड़िता की शिकायत पर जो भी उचित कार्रवाई होगी, उसके अनुसार हम सख्त एक्शन लेंगे।

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending