लखनऊ में कोरोना के बिगड़ते हालातों पर कानून मंत्री ब्रजेश पाठक ने चिकित्सा व्यवस्था पर उठाए सवाल, अधिकारियो को खत लिखकर चेताया

त्तर प्रदेश में कोरोना वायरस दिन प्रतिदिन विकराल रूप लेता नजर आ रहा है मामलों में तेजी से बढ़ोतरी हो रही है. ऐसे में जहां कोरोना मरीजों की संख्या आए दिन बढ़ती जा रही है वहीं दूसरी तरफ अस्पतालों में बेड, आक्सीजन की तक सुविधा सुनिश्चित नही है

अस्पतालों के बाहर तक लंबी कतारें देखने को मिल रही है. ऐसे में कानून मंत्री ब्रजेश पाठक का चिकित्सा की व्यवस्था पर सवाल उठना भी लाज़िमी है.इन सब के बीच उत्तर प्रदेश के कानून मंत्री बृजेश पाठक ने एक चिट्ठी अधिकारियों को लिखी है जिसमें उन्होंने राजधानी में फैल रही महामारी और खराब व्यवस्था पर सवाल खड़े किए है. इसके साथ ही उन्होंने कहा है कि अगर खराब व्यवस्था पर ध्यान नहीं दिया गया तो लखनऊ में लॉकडाउन लगाना पड़ सकता है. 

अपने खत में कानून मंत्री ने कोरोना मरीजों के लिए जांच की व्यवस्था और अस्पतालों में बेड्स की संख्या बढ़ाने की सिफारिश की है.ब्रजेश पाठक ने अपने दिए खत में लिखा है कि “अंसतोषजनक हालात को देखते हुए आठ अप्रैल को वह सीएमओ ऑफिस जा रहे थे, लेकिन अपर मुख्य सचिव (स्वास्थ्य) के आश्वासन पर नहीं गए.

फिर भी स्थिति संतोषजनक नहीं है. जरूरी है कि कोविड बेड बढ़ाए जाएं, पर्याप्त जांच किट दी जाएं, प्राइवेट लैब को कोविड जांच का फिर अधिकार मिले. गंभीर रोगियों को तुरंत भर्ती कर गंभीर रोगों से ग्रसित नॉन कोविड मरीजों का उचित इलाज हो.”

मंत्री ने आगे लिखा, “परिस्थितियों को शीघ्र नियंत्रित नहीं किया तो लखनऊ में लॉकडाउन लगाना पड़ सकता है.”  मंत्री ब्रजेश पाठक ने उठाए सवाल:-)
• कोरोना की जांच रिपोर्ट में 4 से 7 दिन की देरी• एम्बुलेंस की सही सुविधा उपलब्ध नहीं• सीएमओ ऑफिस से भर्ती स्लिप मिलने में हफ्ते लग रहे• लगभग सभी अस्पतालों में कम पड़ती बेड की संख्या• निजी पैथॉलजी में कोविड जांच बंद करवा दी गईं।• 17 हजार जांच किट की जगह 10 हजार ही मिल पा रहीं • इलाज में हो रही असुविधा गंभीर रोगों से ग्रसित नॉन कोविड पेंशट को इलाज नहीं मिल रहा लखनऊ में कोरोना से मचा हाहाकारउत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में कोरोना के मामलों में भारी मात्रा में बढ़ोतरी हुई है प्रतिदिन 4,000 के करीब कोरोना के मामले दर्ज किए जा रहे हैं. हालात इतने भयावह थे कि लखनऊ के बैकुंठ धाम श्मशान में अंतिम संस्कार के लिए भी वेटिंग लगी हुई है. लखनऊ में बेकाबू हुआ कोरोना: 1,11286 एक्टिव केस की संख्या: 23,090 अबतक हुई मौतें: 1353 अबतक रिकवर हुए: 86843 

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending