जानें क्या है गरीबी और दरिद्रता की निशानी…

नमस्कार दोस्तो आपका स्वागत है हमारे यूट्यूब चैनल पर, रहस्य से भरे इस जीवन में धर्म कर्म की बातें जानने और हमसे जुड़ने के लिए हमारे यूट्यूब चैनल को लाइक , शेयर, और सब्सक्राइब जरूर करें। दोस्तो घर में रखी छोटी से छोटी चीजें, बातें और गृह कलेश हमें कई तरह के संकेत देते है जिसे हम जाने अनजाने में कभी पहचान नही पाते। इन संकेतो को अगर समझ लिया जाए तो हम जान सकते है की आने वाला भविष्य हमारा कैसा होगा।

ज्योतिष शास्त्र कहता है की जब भी दरिद्रता बढ़ने लगती है तो उसका असर घर में रखी हर एक वस्तु पर पड़ता है सिर्फ वस्तु पर कहना ठीक नही होगा इसका बराबर असर घर पर रह रहें उन सभी लोगो पर भी उतना ही पड़ता है जितना की किसी निर्जीव वस्तु पर पड़ता है। आज की इस विडियो में हम दरिद्रता से जुड़े ऐसे कुछ संकेतो के बारे में बताने वाले है जो आपको भविष्य में होने वाले नुकसान से शायद बचा सकें।

लेकिन आगे बढ़ने से पहले हमारी आपसे रिक्वेस्ट है की आप इस वीडियो को लाइक, शेयर, और सब्सक्राइब जरूर करें दोस्तो अगर घर में कोई मुसीबत आने वाली हो तो उसका असर सबसे पहले आपको तुलसी में देखने को मिलेगा क्योंकि ऐसे समय में तुलसी का पौधा बिल्कुल सुख जाता है। जो बिलकुल भी शुभ संकेत नहीं है यह दरिद्रता की पहली निशानी के तौर पर देखा जाता है। वहीं दूसरी ओर खाने पीने जैसे खाद्य पदार्थों अथवा नमकीन में काली चींटियों का लगना आने वाले बुरे समय की निशानी है।

अगर आपके घर में भी ऐसा ही कुछ हो तो तुरंत सावधान हो जाएं। इसके साथ ही अगर आपके घर में रखे पेड़ पौधों की पत्तियां अचानक सूखने लगे तो उसे तुरंत कटवा ले। घर में कभी सूखे पेड़ पौधे ना रखें ध्यान रखें कि पेड़ सदा हरे भरे ही रहना चाहिए। घर में रखे पेड़ पौधों के सूखने का अर्थ है घर में भूतों का वास होना या गृह कलह का होना अथवा इसके चलते आप कर्ज में भी डूब सकते है। जिन घरों मे दूध उबल कर गिरता है वहां पैसों की दिक्कतें बढ़ने लगती है और खर्चा ज्यादा से ज्यादा होने लगता है।

घर के सदस्य खासकर बच्चे बीमार पढ़ने लगते है और संबंधों में खटास आ जाती है। इसलिए इस बात का हमेशा ध्यान रखें की दूध उबल कर कभी गिरे ना। वैसे बहुत लोगो का मानना होता है की दूध का उबाल आना या दूध जमीन पर गिर जाना शुभ माना जाता है तो मैं उनकी जानकारी के लिए बता दूं कि ऐसा कुछ भी नही है। दूध गिरना शुभ नही अशुभ होता है। अगर आप किसी काम से बाहर जाते है और घर के अंदर घुसते ही सबसे पहले आपको छिपकली के दर्शन हो तो समझ जाएं आपके साथ कुछ बहुत ज्यादा बुरा होने वाला है और आपके लिए अच्छा होगा की आप उसका सामना करने के लिए पहले से ही तैयार रहें।

दोस्तों घर में छिपकली दिखना तो शुभ संकेत होता है मगर आपने नया घर लिया है और उसमे आपको मरी हुई छिपकली मिल जाए तो घर में प्रवेश करने से पहले पूजा पाठ जरूर करवा लें यह शुभ संकेत नही माना जाता है। अगर आप बिना पूजा पाठ, हवन के घर में प्रवेश करते है तो आप जीवन में कभी तरक्की नहीं कर पाएंगे और हमेशा विरोधी आप पर हावी रहेंगे। अगर जाने अनजाने में छिपकली शरीर के किसी भी अंग या फिर आपके माथे पर गिरती है तो यह बेहद शुभ संकेत है इसका अर्थ है की जल्द ही आपकी झोली खुशियों से भरने वाली है और आपकी ढेर सारा धन प्राप्त होने वाला है।

लेकिन वहीं यदि छिपकली आपके सिर के ऊपर गिरती है तो सतर्क हो जाएं इसका अर्थ है आपके जीवन में भारी दुख आने वाला है इतना ही नही यह आपकी मृत्यु का भी संकेत देता है इसलिए यदि आपको ऐसा संकेत मिले तो आप सावधान रहें । इसी तरह महिलाओं की बाई आंख का फड़फड़ाना शुभ संकेत की ओर इशारा करता है। इसका अर्थ है आपकी शादी का योग आ चुका है और आप जल्द ही शादी के बंधन में बंधने वाले है। 

वहीं इसके विपरीत महिलाओं की दाई आंख फड़कने का मतलब है जीवन में कष्टों का होना। वहीं अगर पुरुषो की दाई आंख फड़के तो उसे शुभ संकेत माना जाता है ऐसा कहा जाता है की जल्द ही कोई शुभ समाचार मिलेगा। इसी तरह कौआ भी आने वाले कल का संकेत देता है। जैसे यदि कोई कौआ किसी स्त्री के सिर पर आकर बैठ जाए तो इसका अर्थ है की उसके पति पर कोई भारी और प्राण घातक मुसीबत आ सकती है।

इसी तरह बहुत सारे कौए अगर किसी की छत पर बैठकर शोर मचाने लग जाए तो इसका अर्थ है की वह आपको आने वाली मुसीबत का संकेत दे रहे है और आपको सतर्क कर रहे है। इसके साथ ही दोस्तो अगर घर के कांच और मिट्टी के बर्तन टूट जाए तो यह दरिद्रता की सबसे बड़ी निशानी मानी जाती है। वहीं अब अगर हम बात झाडू की करें तो झाडू को लक्ष्मी जी का सूचक माना जाता है क्योंकि झाड़ू घर की दरिद्रता को घर से बाहर निकलता है जो जीवन में सुख समृद्धि और धन दौलत का प्रतीक माना जाता है। कहते है झाड़ू के ऊपर पांव नहीं रखना चाहिए इस से लक्ष्मी का निरादर होता है। 

अगर घर में कोई छोटा बच्चा झाडू लगाने लग जाए तो उसे घर में किसी अनचाहे मेहमान का संकेत समझ जाना चाहिए। यही नहीं सूर्य अस्त के बाद भी झाड़ू लगाने से परहेज करना चाहिए क्योंकि यह व्यक्ति के दुर्भाग्यो को सादर आमंत्रित करता है इसलिए इससे बचना चाहिए। हां लेकिन आप नाश्ता करने से पहले झाड़ू लगा सकते है इसे बेहद शुभ माना जाता है। वहीं ऐसा भी कहा जाता है की झाडू को हमेशा लेटाकर रखना चाहिए कहते है झाड़ू को सीधा करके रखने से घर में केवल कलेश बढ़ता है और रोजाना कलह होता है।

इतना ही नही ऐसा करने से घर में हमेशा दरिद्रता और गरीबी का वास बना रहता है। अंधेरा होने के बाद आप झाड़ू लगाने से बचे ऐसा करने से मां लक्ष्मी आप से नाराज हो सकती है। घर का कोई सदस्य बाहर जाए तो उसके तुरंत बाद घर में झाडू नही लगाना चाहिए । थोड़ी देर बाद भले लगा सकते है। वहीं घर में रखे झाड़ू को आने वाले मेहमानों से हमेशा बचाकर रखना चाहिए, जिस तरह हम जेवर , पैसों को छुपाकर कर रखते है ठीक उसी तरह झाड़ू को भी बाहर वालो की नजरो से छुपाकर रखना चाहिए। 

वास्तु विज्ञान के अनुसार जो लोग झाड़ू सदा एक स्थान पर रखने के बजाय इधर उधर कहीं भी रख देते है वह हमेशा आर्थिक तंगी से परेशान रहते है। उनका खर्चा लगातार बढ़ता रहता है और वह आए दिन नई नई परेशानियों का सामना करते रहते है। दोस्तों इन सभी बातों के साथ ही गाय या अन्य किसी भी जानवर को कभी भी झाडू से कभी नही मारना चाहिए। इससे मां लक्ष्मी आप से नाराज होकर चली जाती है।

तो आज के लिए इतना ही अगर आपको यह विडियो पसंद आई हो तो कमेंट बॉक्स में हमे अवश्य बताएं और अगर आपने अब तक हमारे चैनल को लाइक, शेयर और सब्सक्राइब नही किया है तो बिना देर किए तुरंत कीजिए। हम दुबारा हाजिर होंगे एक नए रहस्य के साथ तब तक के लिए बैल आइकॉन पर क्लिक कर जुड़े रहे हमारे चैनल के साथ।

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending