जानिए कोरोना वैक्सीन की पहली डोज लेने के बाद एक्सरसाइज करना कितना सही या झेलनी पड़ेगी मुसीबत?

कोरोना वायरस से खुद का बचाव करने के लिए विशेषज्ञ सभी लोगों को अपनी इम्यूनिटी सही रखने की सलाह देते हैं। ऐसे में इम्यूनिटी को स्ट्रांग करने के लिए पौष्टिक खान-पान का, अच्छी नींद और रोजाना एक्सरसाइज करना बहुत जरूरी माना जाता है। इन दिनों कोरोना से छुटकारा पाने के लिए सरकार ने देशभर में टीकाकरण अभियान को भी तेज कर दिया है। हालांकि वैक्सीन को लेकर लोगों के मन में कई तरह के सवाल भी हैं। इन्हीं में से एक सवाल यह है कि टीकाकरण के बाद एक्सरसाइज करना ठीक होगा? यदि हां तो फिर कितने दिनों बाद और कितनी देर तक करनी होगी। तो आइये आपको बताते हैं टीकाकरण के बाद व्यायाम के बारे कुछ जरूरी बातें….

दरअसल एक्सरसाइज करने की सलाह डॉक्टर केवल कोरोना महामारी के समय ही नहीं बल्कि इससे पहले भी देते रहे हैं। क्योंकि व्यायाम करना शारीरिक गतिविधि बहुत आवश्यक होता है। यही नहीं व्यायाम करने से शरीर के एनर्जी लेवल को दुरुस्त किया जा सकता है। लेकिन क्या वैक्सीन की डोज लेने के बाद व्यायाम करना उचित होता है?  यह सवाल इस समय में सबसे ज्यादा जरूरी माना जा रहा है कि क्योंकि ज्यादातर लोगों को वैक्सीन लेने के बाद इसके साइड-इफेक्ट्स के रूप में बुखार और कमजोरी जैसी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

दरअसल डॉक्टर का वर्क आउट को लेकर कहना है प्रतिदिन व्यायाम करना हर किसी के शरीर के लिए बेहद जरूरी है। परन्तु जब बात टीकाकरण के बाद व्यायाम करने की हो तो इसके लिए आपको बहुत ध्यान रखना पड़ता है।

बता दें,कोविड-19 से ठीक होने के बाद शरीर को आराम की अति आवश्यकता होती है और ऐसा ही कुछ वैक्सीन के साथ भी ऐसा ही है। वैक्सीन लगवाने के बाद एक-दो दिनों तक लोगों को किसी भी तरह के तीव्र स्तर वाले व्यायामों से बचना चाहिए। क्योंकि वैक्सीन लगवाने के बाद कुछ लोगों को कमजोरी भी महसूस होती है ऐसे में टीकाकरण वाले दिन आपको पूरी तरह से आराम करना चाहिए। जबकि इसके एक दो दिनों बात फिर से व्यायाम की शुरुआत कर सकते हैं।

कोरोना वैक्सीन से होने वाले कुछ साइड-इफेक्ट्स

 ऐसा कहा जा रहा है टीकाकरण कराने के बाद लोगों को बुखार, जी मिचलाने, सिरदर्द, शरीर में दर्द, ठंड लगने, डायरिया और थकान जैसी दिक्कत महसूस हो रही हैं। ऐसे में विशेषज्ञ का कहना है ऐसी  स्थिति में घबराना नहीं चाहिए, वैक्सीनेशन के बाद ऐसा होना सामान्य है। क्योंकि शरीर में जब कुछ बाहरी चीज जाती है इस दौरान उसके खिलाफ प्रतिक्रिया होना स्वाभाविक है।

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending