जदयू नेता मदन साहनी ने बिहार में अफसरशाही हावी होने का हवाला देते हुए मंत्री पद से इस्तीफे की मांग की

बिहार सरकार के समाज कल्याण मंत्री और जदयू विधायक मदन साहनी ने बिहार में अफसरशाही हावी होने का हवाला देते हुए मंत्री पद से इस्तीफा की मांग की है। जिसके बाद से बिहार की सियासत चरमरा गई है। जदयू विधायक मदन साहनी के इस्तीफे के बाद कांग्रेस विधानमंडल दल के नेता और भागलपुर विधायक अजीत शर्मा का बयान सामने आया है। उन्होंने मदन सहनी के इस कदम की सराहना करते हुए उनकी जमकर तारीफ की है। 

दरअसल, अटकलें लगाई जा रही है की समाज कल्याण विभाग के मंत्री मदन साहनी आज अपने पद से इस्तीफा दे सकते है। बता दें की मदन साहनी फिलहाल दरभंगा में है और माना जा रहा है कि वह आज पटना लौटेंगे, जिसके बाद वह अपने पद से इस्तीफा दे देंगे। 

गौरतलब हो की 2 दिन पहले मदन साहनी ने बिहार में हावी अफसरशाही का आरोप लगाते हुए ऐलान किया था कि उन्हें अपने पद पर रहकर काम करने में असुविधा हो रही है और उनकी अधिकारी नहीं सुनते हैं। वहीं कांग्रेस नेता अजीत शर्मा ने भी इस पर हामी भरते हुए कहा कि बिहार के अधिकारी भ्रष्टाचार और लूट में मस्त हैं।

अजीत शर्मा ने कहा, बिहार वर्तमान एनडीए सरकार में काम करने वाले अफसरों पर अफसरशाही हावी हो गई है। कुछ अधिकारियों के कब्जे में पूरी सरकार और बिहार है। बिहार के अधिकारी, मंत्री, विधायक और जनप्रतिनिधियों का सम्मान नहीं करते हैं और उनकी बातों को अनसुना कर देते हैं।

उन्होंने आगे कहा कि कल तक कांग्रेस में टूट होने की बात करने वाले जदयू के नेता अपनी पार्टी बचाएं, क्योंकि जल्द ही जदयू में एक बड़ी टूट होने वाली है। बिहार में महागठबंधन की सरकार बनने वाली है। उन्होंने जदयू में जल्द ही टूट होने की बात करते हुए बिहार में महागठबंधन की सरकार बनाए जाने का दावा भी ठोका है।

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending