जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय ने कहा, सभी छात्र करें हॉस्टल खाली, अपने मूल स्थानों पर वापस लौटें

राजधानी में तेज़ी से बढ़ रहे कोरोना मरीजों के आंकड़ों को देखते हुए जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) ने अपने हॉस्टल में रहने वाले छात्रों को सलाह दी की यदि संभव हो तो अपने अपने घर वापस लौट जाएं. विश्वविद्यालय द्वारा जारी किए गए एक नोटिस के अनुसार, वर्तमान में जेएनयू परिसर में 64 कोरोना पॉजिटिव मामले हैं.
विश्वविद्यालय ने कहा कि हॉस्टल मेस, भोजनालय और लाइब्रेरी से सबसे ज्यादा कोरोना फैसले का खतरा ज्यादा है. विश्वविद्यालय ने कहा कि इसलिए, छात्रों और सभी परिसर के निवासियों की भलाई और सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए, यह उचित है कि छात्र हॉस्टल खाली कर अपने मूल स्थानों में चले जाएं. इससे कोरोना को रोकने में मदद भी मिलेगी.
बता दें कि विश्वविद्यालय ने पिछले साल मार्च में संक्रमण के फैलने के बाद से 322 मामलों और पांच मौतों की सूचना दी है.
विश्वविद्यालय वर्तमान सेमेस्टर को ऑनलाइन तरीके से जारी रखेगा और प्रवेश प्रक्रिया अप्रैल के आखिर तक शुरू हो सकती है. फिलहाल पाठ्यक्रम डिजिटल मंच से चल रहे हैं. पूरा सेमेस्टर ऑनलाइन तरीके से ही चल रहा है.
गौरतलब है कि स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी किए गए आंकड़ों के अनुसार राजधानी में शुक्रवार करीब 19,486 नए मामले सामने आए है और 141 लोगो की मौत हुई है. 

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending