जमशेदपुर: ऑनलाइन क्लास के लिए आम बेच रही 11 वर्षीय बच्ची को एक अनजान शख्स ने दिए 1.2 लाख रुपए

झारखंड के जमशेदपुर से एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है। जहां 11 वर्षीय तुलसी अपनी ऑनलाइन क्लास के लिए स्मार्टफोन खरीदना चाहती थी। मगर पैसों की कमी के चलते वह ना ऑनलाइन क्लास ले पाई और ना ही अपने लिए स्मार्टफोन। जिसके चलते बच्ची ने सड़क किनारे आम बेचने का फैसला किया।

इंडिया टाइम्स की खबर के मुताबिक, अखबारों में ये खबर देखकर जब अमेय नाम का यह शख्स  जमशेदपुर पहुंचा और बच्ची को आम बेचता देखा तो वह हस्तप्रभ रह गया। जिसके बाद अमेय ने बच्ची से आम खरीदने का फैसला किया। अमेय ने बच्ची से 12 आम खरीदे और उसके बदले उसने बच्ची को 1 लाख 20 हजार रुपए दे दिए।

बीते बुधवार को, अमेय ने पैसे लड़की के पिता श्रीमल कुमार के अकाउंट में ट्रांसफर कर दिए। बता दें की अमेय, वैल्यूएबल एडुटेनमेंट प्राइवेट लिमिटेड (Valuable Edutainment Private Ltd) के मैनेजिंग डायरेक्टर हैं। उन्हें 11 वर्षीय तुलसी के संघर्षों के बारे में स्थानीय मीडिया द्वारा जानकारी मिली। मीडिया से बातचीत में लड़की ने अपने परिवार की वित्तीय समस्याओं के बारे में बताया था। ऑनलाइन क्लास अटेंड करने के लिए स्मार्टफोन होना जरूरी था, जिसकी वजह से वह पढ़ाई छोड़कर सड़क किनारे आम बेच रही थी।

टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के मुताबिक, अमेय द्वारा मदद किए जाने के बाद तुलसी ने कहा कि उसने स्मार्टफोन खरीदने के लिए पैसे बचाने के लिए आम बेचना शुरू किया था, लेकिन अब जब उसके पास पैसे हैं, तो वह ऑनलाइन क्लास अटेंड कर सकती है और अपनी पढ़ाई जारी रख सकती है। बता दें की आम बेचने वाली 11 वर्षीय तुलसी पांचवीं कक्षा की छात्रा है बच्ची एक सरकारी स्कूल में पढ़ती है। कोरोनो वायरस महामारी के दौरान बच्ची का स्कूल बंद हो गया था।

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending