क्या पान खाने से नहीं होता कोरोना, क्या सचमुच कोरोना से बचने का रामबाण इलाज है पान, जानिए वायरल दावे की सच्चाई

सोशल मीडिया पर कोरोना वायरस से जुडी फ़र्ज़ी ख़बरों और अफवाहों का दौर शुरू से ही चलता आया है और ये सिलसिला अभी भी जारी है। सोशल मीडिया एक ऐसा प्लेटफार्म है जहां सच्ची और झूठी खबरो में फर्क आंकना बहुत ही मुश्किल हो जाता है जिसके कारण हर कोई नफरत फैलाने और भ्रम पैदा करने वाली फर्जी खबरों का शिकार बन जाता है। इसी तर्ज़ पर अख़बार की एक क्लिप वायरल हो रही है, जिसमें वैद्य एम् आर शर्मा के हवाले से यह दावा किया गया है कि अगर पान का सेवन किया जाए तो कोरोना वायरस से बचा जा सकता है। आइए जानते है क्या है वायरल हो रहा दावा।

क्या है वायरल पोस्ट में?
दरअसल, एक फेसबुक पोस्ट मे लिखा गया है कि ‘पान के पत्तों का सेवन करने से कोरोना वायरस से बचा जा सकता है: वैद्य एम्आर शर्मा”

वायरल दावे की सच्चाई
न्यूज़ सर्च के दौरान हमें WHO साउथ एशिया रीजन के ऑफिशियल फेसबुक पेज पर 17 जून 2020 को शेयर की गयी एक पोस्ट मिली, जिसमें बताया गया कि उबले हुए पान खाने से कोरोना वायरस के इलाज का दावा गलत है। पान के सेवन के ज़रिये कोविड 19 वायरस से बचने का कोई भी साइंटिफिक सबूत मौजूद नहीं है। वायरल दावा पूरी तरह बेबुनियाद है।

यह सब भी पढ़ें

इंटरनेट पर मौजूद आर्टिकल्स के मुताबिक, पान के पत्ते इम्युनिटी बढ़ाने में कुछ हद तक कारगर साबित हो सकते हैं। पान के पत्ते में वास्तव में कई उपचारात्मक और हीलिंग लाभ होते हैं। पत्ते विटामिन-सी, थायमिन, नियासिन, राइबोफ्लेविन और कैरोटीन जैसे विटामिन से भरपूर होते हैं और कैल्शियम का एक बड़ा स्रोत होते हैं। वास्तविक औषधीय लाभ अन्य गैर-पोषक तत्वों से उत्पन्न होते हैं। इनमें इसके शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट और एंटी-इन्फ्लेमेटरी यौगिक जैसे फाइटोकेमिकल्स शामिल हैं, जिनमें फेनोलिक यौगिक, फ्लेवोनोइड्स, टैनिन, अल्कलॉयड, स्टेरॉयड और क्विनोन शामिल हैं।

हालांकि, अब तक की पड़ताल से यह तो साफ़ हो गया था कि पान के पत्तों के सेवन से कोरोना वायरस से बचाव का कोई भी पुख्ता प्रमाण मौजूद नहीं है। 

जानिए विशेषज्ञों की राय
वैद्य एमआर शर्मा के भाई खेमचंद्र शर्मा ने पुष्टि की कि उनके भाई ने यह बयान पिछले साल दिया था, लेकिन साथ में उन्होंने यह भी कहा कि इस बयान का कोई साइंटिफिक सबूत नहीं है। वहीं नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ़ आयुर्वेदा के असिस्टेंट प्रोफेसर डॉक्टर हरीश भाकुनी के मुताबिक, पान खाने से कोरोना वायरस से बचाव या ठीक होने का कोई भी सबूत मौजूद नहीं है और ये दावा फ़र्ज़ी है।

निष्कर्ष: हमारी पड़ताल में पाया कि पान के सेवन के ज़रिये कोरोना वायरस से बचाओ का दावा गलत है। कोई भी ऐसा साइंटिफिक सबूत मौजूद नहीं है, जो इस दावे को सही साबित करता हो।

किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमसे संपर्क करें
अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं।

वॅाट्सऐप नंबर/ टेलीग्राम नंबर+919810553618
ईमेलV3newsindia@gmail.com
आप हमसे हमारे ईमेल आईडी V3newsindia@gmail.com या फिर वॅाट्सऐप / टेलीग्राम नंबर +919810553618 के जरिए संपर्क कर सकते हैं। किसी भी सुझाव या शिकायत के लिए V3newsindia@gmail.com पर ईमेल भेजें।

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending