क्या केजरीवाल सरकार सिर्फ मुस्लिमों को दे रही है वित्तीय सहायता…क्या दिल्ली की जनता के साथ धोखा हो रहा हैं, जानिए क्या है पूरा सच

वैसे तो सोशल मीडिया पर हमेशा ही झूठी अफवाहे वायरल होती रहती है। इन्ही झूठी अफवाहों में आकर अक्सर आम जनता बरगला जाती है वह सच झूठ मे फर्क नही आंक पाती है और जो दिखता है उसी पर आंख मूंद कर यकीन कर लेती है एक ऐसी ही खबर इन दिनों सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रही है जिसमें कहा जा रहा है की दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल केवल एक ही धर्म के कोरोना वारियर्स के लोगो की वित्तीय सहायता कर रहे है जिसके बाद से ही सोशल मीडिया पर अरविन्द केजरीवाल लोगो के निशाने पर आ गए है।सोशल मीडिया यूजर्स दावा कर रहे हैं कि दिल्ली सरकार कोरोना वॉरियर्स को वित्तीय मदद देने में धार्मिक भेदभावकर रही है।क्या है पूरा मामला
दरअसल, पिछले दिनों दिल्ली सरकार की तरफ से कोरोना वॉरियर के तौर पर निधन होने पर दी जाने वाली वित्तीय मदद के रूप में डॉक्टर अनस मुजाहिद के परिजनों को एक करोड़ रुपये का चेक सौंपा था। जिसके बाद से केजरीवाल सरकार पर एक खास धर्म को ही वित्तीय मदद देने का आरोप लगाकर पोस्ट शेयर की जा रही है।

क्या वायरल हो रहा दावा
फेसबुक यूजर्स Sharad Gupta ने के शख्स ने बुधवार( 26 मई 2021) को एक पोस्ट शेयर किया। इस पोस्ट में दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल किसी शख्स को कुछ सौंपते हुए नजर आ रहे हैं और लिखा गया है की, ‘केजरीवाल मृतक डॉक्टर अनस मुजाहिद के परिवार से मिले और एक करोड़ रुपये का चेक उसे सौंपा अनस की कोरोना से मौत हुई थी!! दिल्ली में 70 डॉक्टरों की कोरोना से मौत हो चुकी है, 69 हिंदू थे इस लिए कुछ नहीं?’

क्या है वायरल दावे का सच

दरअसल, डॉक्टर अनस जीटीबी अस्पताल में जूनियर रेजिडेंट थे। कोविड-19 की ड्यूटी करने के दौरान वह कोरोना संक्रमित हो गए थे। 8 मई 2021 को उनकी टेस्ट रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी और इलाज के दौरान 9 मई 2021 की सुबह ही उनका निधन हो गया था। जिस पर केजरीवाल सरकार ने उनके परिजनों को एक करोड़ रुपये की राहत राशि का चेक सौंपा गया।

सिर्फ मुस्लिम डॉक्टर अनस ही नही केजरीवाल इन हिंदुओं की भी कर चुके है वित्तीय सहायता –
इससे पहले अरविंद केजरीवाल ने तकरीबन 3 जुलाई 2020 के आस पास कोरोना की वजह से जान गंवाने वाले लोक नायक अस्पताल के डॉक्टर असीम गुप्ता(हिंदू) के परिजनों को एक करोड़ रुपये का चेक सौंपा था। वही फिर 2 सितंबर 2020 को प्रकाशित एक रिपोर्ट के अनुसार सरकार में फार्मासिस्ट के तौर पर तैनात कोरोना वॉरियर राजेश भारद्वाज (हिंदू) का निधन होने के बाद सीएम केजरीवाल ने उनके परिजनों को एक करोड़ रुपये का चेक सौंपा। 

इसी तरह 13 मार्च 2021 को प्रकाशित एक रिपोर्ट के मुताबिक, बाड़ा हिंदू राव अस्पताल में लैब तकनीशियन के पद पर तैनात कोरोना वॉरियर राकेश जैन(हिंदू) के निधन के बाद केजरीवाल सरकार की तरफ से उनके परिजनों को एक करोड़ रुपये का चेक सौंपा गया। ये तमाम रिपोर्ट्स बताती हैं कि केजरीवाल सरकार की तरफ से दूसरे धर्मों के कोरोना वॉरियर्स के निधन के बाद उनके परिजनों को एक करोड़ रुपये की राहत राशि का चेक सौंपा गया। 

यह सब भी देखें
20 मई 2020 को किए गए एक ट्वीट में दिल्ली सीएम ने बताया है कि कोरोना वॉरियर स्कूल टीचर शिवजी मिश्रा के परिजनों को एक करोड़ रुपये का चेक सौंपा।

https://twitter.com/ArvindKejriwal/status/1395367957245702147?s=19
25 जुलाई 2020 को किए गए ट्वीट में दिल्ली सीएम ने बताया है कि सिविल डिफेंस के अरुण कुमार के निधन के बाद उनके परिजनों को एक करोड़ रुपये का चेक सौंपा गया।
https://twitter.com/ArvindKejriwal/status/1287013548925755392?s=19

21 अगस्त 2020 को किए गए ट्वीट में सीएम केजरीवाल ने बताया है कि कोरोना योद्धा सफाई कर्मचारी राजू के परिजनों को एक करोड़ रुपये का चेक सौंपा गया।

अबतक की पड़ताल में ये बात साफ हो चुकी थी कि केजरीवाल सरकार की तरफ से सिर्फ एक धर्म के कोरोना योद्धा के परिजनों को एक करोड़ रुपये का चेक सौंपने का दावा गलत है। अलग-अलग पेशे से आने वाले अलग-अलग धर्मों के कोरोना योद्धाओं के परिजनों को एक करोड़ रुपये का चेक दिल्ली सरकार की तरफ से दिया गया है।

निष्कर्ष
दिल्ली सरकार की तरफ से कोरोना वॉरियर्स को वित्तीय मदद देने में धार्मिक भेदभाव का दावा करने वाली वायरल पोस्ट झूठी है। पिछले साल कोरोना के मामलों की शुरुआत के बाद से ही केजरीवाल सरकार द्वारा अलग-अलग धर्मों से जुड़े कोरोना वॉरियर्स के परिजनों को राहत राशि का चेक सौंपा गया है।

झूठी अफवाहों से बचे…किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं
अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं।

वॅाट्सऐप नंबर/ टेलीग्राम नंबर+919810553618
ईमेलV3newsindia@gmail.com
आप हमसे हमारे ईमेल आईडी V3newsindia@gmail.com या फिर वॅाट्सऐप / टेलीग्राम नंबर +919810553618 के जरिए संपर्क कर सकते हैं। किसी भी सुझाव या शिकायत के लिए V3newsindia@gmail.com पर ईमेल भेजें।

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending