क्या पश्चिम बंगाल की पुलिस में भर्ती के लिए मुस्लिम होना जरूरी है?? जानिए पूरा सच

सोशल मीडिया पर इन दिनों पश्चिम बंगाल बहुत सुर्खिया बटौर रहा है। दरअसल, सोशल मीडिया पर दावा किया जा रहा है की पश्चिम बंगाल पुलिस में सब इंस्पेक्टर के पदों पर भर्ती के लिए मुस्लिम होना अनिवार्य है। इसको लेकर सोशल मीडिया पर एक तस्वीर भी जमकर शेयर की जा रही है जिसके चलते दावे के साथ यह कहा जा रहा है की ममता सरकार केवल मुस्लिमों की हितायती है। तो आइए जानते है आखिर क्या है वायरल हो रहा दावा और इससे जुड़ी सच्चाई ।

वायरल हो रहा दावा

दरअसल, फेसबुक यूजर सर्वोत्तम कुमार गौत्तम ने 20 जून 2021 को फेसबुक पोस्ट के जरिए लिखा, “West Bengal Police में Sub Inspector के पद पर भर्तियां हुईं हैं। ज़रा नए नए सब इंस्पेक्टरों के नामों पर नज़र डालिये। बधाई हो। आप आलू प्याज़ पेट्रोल पर रोते रहिये।” इसके साथ ही इस पोस्ट के साथ एक लिस्ट लगाई गई जिसमें दिखाया गया कि ओबीसी ए वर्ग में हुई भर्ती में ज्यादातर कैंडिडेट एक खास धर्म से संबंध रखते हैं। लिस्ट पर ऊपर लिखा था वेस्ट बंगाल पुलिस रिक्रूटमेंट बोर्ड। 

वायरल हो रहे दावे की सच्चाई

हमने अपनी पड़ताल में सबसे पहले पश्चिम बंगाल पुलिस की वेबसाइट http://wbpolice.gov.in/ पर जा कर रिक्रूटमेंट सेक्शन में भर्ती की लिस्ट देखी। यहां पाया गया कि वायरल की जा रही लिस्ट भर्ती की पूरी लिस्ट का एक हिस्सा मात्र है। ये सिर्फ ओबीसी वर्ग में ग्रुप ए के तहत की गई भर्ती की लिस्ट है, आधिकारिक साइट पर हमें अलग-अलग वर्ग की कुल 10 सूचियां मिलीं। इन्हीं 10 में से सिर्फ एक सूची को वायरल किया जा रहा है। इन 10 सूचियों में हर ग्रुप के लिए दो सूचियां हैं।

एक सूची आर्म्ड ब्रांच (AB) की और दूसरी अनआर्म्ड ब्रांच (UB) की। वायरल की जा रही सूची ओबीसी (ए) अनआर्म्ड ब्रांच की है, जिसमें 50 कैंडिडेट्स के नाम हैं। सोशल मीडिया पर इस लिस्ट का पहला पन्ना ही शेयर किया जा रहा है, जिसमें 37 नाम मौजूद हैं। ये बात सही है कि ओबीसी (ए) श्रेणी की, जो लिस्ट वायरल की जा रही है उसमें एक खास धर्म के नाम हैं, लेकिन आप अगर ओबीसी (बी), SC, ST और अनारक्षित कोटे की लिस्ट देखें, तो इसमें दूसरे धर्म के कैंडिटेट्स की संख्या सर्वाधिक है। इस तथ्य को सोशल मीडिया पर वायरल पोस्ट में जानबूझकर नजरअंदाज किया जा रहा है।

बता दें की ओबीसी की कैटेगरी ए में अति पिछड़ा वर्ग शामिल है, जबकि बी में पिछड़ा वर्ग है। इन 171 समूहों में से 112 भारतीय मुस्लिम समुदाय से हैं। आधिकारिक लिस्ट के मुताबिक खासकर ओबीसी ए समूह में 80 समुदाय में 72 भारतीय मुस्लिम समुदाय से हैं। यही वजह है कि इस लिस्ट में एक समुदाय के लोगों की संख्या ज्यादा रहती है।

निष्कर्ष- हमारी पड़ताल में यह साबित होता है की पश्चिम बंगाल पुलिस में सब इंस्पेक्टर के पद पर एक खास वर्ग के लोगों की भर्तियों का दावा पूरी तरह से फर्जी है। यह केवल भ्रामक करने के उद्देश्य से किया गया है। 

CLAIM REVIEW : पश्चिम बंगाल में SI भर्ती में मुस्लिम समुदाय के लोगों की ही भर्ती की जा रही है।
CLAIMED BY : फेसबुक यूजर सर्वोत्तम कुमार गौत्तम।
FACT CHECK : Misleading
किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमसे संपर्क करें

अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं।
वॅाट्सऐप नंबर/ टेलीग्राम नंबर+919810553618ईमेलV3newsindia@gmail.comआप हमसे हमारे ईमेल आईडी V3newsindia@gmail.com या फिर वॅाट्सऐप / टेलीग्राम नंबर +919810553618 के जरिए संपर्क कर सकते हैं। किसी भी सुझाव या शिकायत के लिए V3newsindia@gmail.com पर ईमेल भेजें।

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending