भारतीय वैज्ञानिकों ने खोजी बाजरे की नई बीमारी, अमेरिकन फाइटोपैथोलॉजिकल सोसाइटी ने भी दी मान्यता

चौधरी चरण सिंह (Chaudhary Charan Singh) हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय (Haryana Agricultural University) के वैज्ञानिकों ने विश्व स्तर पर बाजरे की नई बीमारी की खोज की है। हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय के वैज्ञानिक दुनिया में इस बीमारी की खोज करने वाले सबसे पहले वैज्ञानिक हैं। इन वैज्ञानिकों ने बाजरा में स्टेम रोट (stem rot) बीमारी पर शोध रिपोर्ट प्रस्तुत की है जिसे अंतरराष्ट्रीय स्तर पर संस्था ने मान्यता प्रदान करते हुए अपने जर्नल में प्रकाशन के लिए स्वीकार किया है।

खास बात यह है की भारतीय वैज्ञानिकों द्वारा खोजी बाजरे की इस नई बीमारी को अमेरिकन फाइटोपैथोलॉजिकल सोसाइटी, यूएसए द्वारा प्रकाशित प्रतिष्ठित जर्नल प्लांट डिजीज में वैज्ञानिकों की इस नई बीमारी की रिपोर्ट को प्रथम शोध रिपोर्ट के रूप में जर्नल में स्वीकार कर मान्यता दी गई है। बता दें अमेरिकन फाइटोपैथोलॉजिकल सोसाइटी पौधों की बीमारियों के अध्ययन के लिए सबसे पुराने अंतरराष्ट्रीय वैज्ञानिक संगठनों में से एक है। जो विशेष तौर पर पौधों की बीमारियों पर विश्वस्तरीय प्रकाशन करती है।

वैज्ञानिकों की जांच मे यह साबित हुआ है कि इस बीमारी का कारक जीवाणु क्लेबसिएला एरोजेन्स ही है। क्लेबसिएला एरोजेन्स जीवाणु मनुष्य की आंत में भी होता है जो किसी माध्यम से फसल में आया और फसल को नुकसान पहुंचाने लगा। इस खोज का सबसे ज्यादा फायदा राजस्थान, उत्तर प्रदेश, गुजरात, हरियाणा और महाराष्ट्र के किसानों को मिलता है, जहां सबसे अधिक बाजरा पैदा होता है। हरियाणा, जहां के वैज्ञानिकों ने इसकी खोज की है वह देश का चौथा सबसे बड़ा बाजरा उत्पादक सूबा है। यहां देश का लगभग 10.64 फीसदी बाजरा पैदा होता है।

विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ. बीआर कांबोज ने वैज्ञानिकों की इस खोज के लिए बधाई देते हुए भविष्य में इसके उचित प्रबंधन के लिए भी इसी प्रकार निरंतर प्रयासरत रहने की अपील की है। इस अवसर पर ओएसडी डॉ. अतुल ढींगड़ा एवं पादपरोग विभाग के अध्यक्ष डॉ. हवा सिंह सहारण भी मौजूद थे। विश्वविद्यालय के अन्य वैज्ञानिकों डॉ. पूजा सांगवान, डॉ. मनजीत सिंह, डॉ. राकेश पूनियां, डॉ. देवव्रत यादव, डॉ. पम्मी कुमारी और डॉ. सुरेंद्र कुमार पाहुजा का भी उनके इस प्रोजेक्ट में विशेष योगदान रहा है।

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending