गर्मियों में पीए बेल और नींबू का शर्बत जिससे मिले एनर्जी, शरीर को ठंडक भी महसूस हो

अब गर्मियों का दिन शुरु हो चुका है ऐसे में आज कल हर किसी को बहुत ही ज्यादा प्यास लगती है और हर समय पानी सिर्फ पीने का मन नहीं करता ऐसे में हम क्या पीए जिससे प्यास भी खत्म हो और शरीर में एनर्जी भी महसूस हो ताकि सारा काम करने का मन करे। गर्मियों में कुछ ठंडा पीने का मन करता है।

यदि  हम बेल और नींबू ये दो का शर्बत पीते है तो हमें एनर्जी भी बहुत मिलता है और  शरीर को ठंडक भी महसूस होता जिसे सारा काम करने का भी मन करता है और इम्यून सिस्टम के लिए भी बहुत ही ज्यादा असरदार है ये दो शर्बत। 

बेल में मौजूद विटामिन ए आंखों की सेहत को फायदा पहुंचाता है। वहीं इसमे जिंक और आयरन भी पर्याप्त मात्रा में होते हैं। ऐसे में बेल के शरबत का सेवन फायदेमंद होता है। 

 गर्मियों का फल कहा जाने वाला ये बेल पकने के बाद बेहद फायदेमंद हो जाता है। बेल   ठंडी ठंडी होती है इसलिए गर्मियों में इसका शरबत पीना चाहिए ये शरीर को भी ठंडक देता है। 

फाइबर से भरपूर होने के कारण बेल आंतों के लिए बेहद अच्छा होता है। आतों के जरिये शरीर में एकत्र अपशिष्ट आसानी से बाहर निकल जाता है। ये कब्ज को रोकने में मदद करता है। बहुत से शोध बताते हैं कि ये वेट लॉस के लिए भी बेहतर है क्योंकि इसमें फाइबर अधिक है और ये पेट को लंबे समय तक भरा महसूस कराता है।

बेल का जूस  बनाने का तरीका 

बेल का  गूदा निकाल दे पहले और उसका बीज निकाल कर हटा दे। गुदा को फिर  मैश किया जाता है और पानी में मिलाया जाता है और 20 मिनिट के लिए छोड़ दिया जाता है। इसके बाद इसे छानकर इसमें चीनी मिला  दें। आप चाहें तो इसमें भुना जीरा पाउडर, दालचीनी पावडर और काला नमक भी मिला सकते हैं आपका बेल का शरबत बनकर तैयार हो गया अब आप अपनी इक्षा के अनुसार इसमें पानी मिलकर इसे पतला या गाढ़ा रख सकते हैंl 

 नींबू का शर्बत 

एक नींबू के रस में लगभग 10 कैलोरी उपस्थित

रहती है। नींबू पानी में विटामिन C बहुत अधिक मात्रा में होता हैं। इसमें फोलेट और पोटेशियम भी उपलब्‍ध रहते है। नींबू में बहुत सारे एंटीऑक्सीडेंट गुण और फ्लैवोनोइड्स यौगिक होते है।इससे रोगों से लडऩे में मदद मिलती है। सुबह के समय इसका सेवन करने से रोग प्रतिरोधक क्षमता बेहतर हो जाती है। जो छोटी-छोटी इंफैक्शन जैसे सर्दी, खांसी, जुखाम को बचाव रखता है। 

नींबू में एंटी-ऑक्सीडेंट के गुण होते हैं। जो त्वचा में निखार बनाए रखते हैं। जिससे त्वचा के दाग-धब्बे साफ हो जाते हैं। 

नींबू पानी मुंह की दुर्गंध को दूर करने में मददगार है। यह बॉडी को डिटॉक्स करने का काम करता है। 

-मोटापे से परेशान हैं तो सुबह खाली पेट गरम पानी, नींबू और शहद का सेवन करने से पेट में जमा चर्बी कम होनी शुरू हो जाती है। 

नींबू का शरबत बनाने का तरीका 

 आप एक गिलास ठंडा पानी लेकर इसमें नींबू को काटकर उसका रस मिला लें। अब आप इसे पानी में थोड़ी शक्कर स्वाद अनुसार मिला लें। चीनी के पूरी तरह से घुलने तक इसे अच्छी तरह मिलाएं। अब आपका नींबू का शरबत पीने के लिए तैयार है।

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending