शरीर में हो रही प्रोटीन की कमी को अनदेखा करना पड़ सकता है मंहगा।

महत्वपूर्ण बात प्रोटीन स्किन से लेकर बालों, नाखूनों, हड्डियों, मांसपेशियों और अंगों को स्वस्थ रखने के लिए अति आवश्यक माना जाता है। इस खास वजह से हमें इस बात का खास ख्याल रखना चाहिए की शरीर में प्रोटीन की कमी नहीं होने पाए, क्योंकि प्रोटीन की कमी होने पर शरीर को कई गंभीर समस्याएं झेलनी पड़ सकती हैं। तो चलिए जानते हैं प्रोटीन की कमी के लक्षणों के बारे में कुछ जरूरी बातें जिनका ध्यान रखना है बेहद जरूरी है

प्रोटीन का सेवन करना हमारे शरीर के लिए बेहद जरूरी होता है। बॉडी में पाए जाने वाले हर एक जीवित कोशिका को प्रोटीन की जरूरत होती है। यूं तो प्रोटीन की जरूरत हर एक व्यक्ति को होती है, खासकर बच्चों और युवाओं में अधिक मात्रा में इसकी जरूरत होती है। दरअसल इसी के माध्यम उनके शरीर का विकास बेहतर तरीके से हो पता है। यही नहीं प्रोटीन बॉडी में नई कोशिकाओं को बनाने और इनमें सुधार करने का काम करता है।

बॉडी में प्रोटीन की कमी होने के कुछ लक्षण

– थोड़ी देर में भूख लग जाना
– चिड़चिड़ापन
– नाखूनों का नाजुक होना
– बाल का झड़ना
– घाव भरने में ज्यादा समय लगना
– जोड़ों में दर्द
– जल्दी-जल्दी बीमार पड़ जाना
– नींद नहीं आना

प्रोटीन की कमी होने पर होंगे कुछ ऐसे नुकसान

– अवसाद
– शारीरिक विकास में होगी कमी
– बच्चों में हो सकती हैं कुपोषण जैसी बीमारी
– दिमाग कम काम करे
– नींद की परेशानी
– वजन में बढ़ोतरी

क्या हैं प्रोटीन के स्रोत ?

अगर आप भी प्रोटीन का सेवन सही मात्रा में नहीं करते हैं तो ऐसे में हम अपने खानपान के माध्यम से शरीर में प्रोटीन की कमी को दूर कर सकते हैं। दाल, रोटी, कच्ची सब्जियां, दूध, दही, राजमा, सोयाबीन, मूंगफली, मेवा, अंडा, चिकन और मछली आदि प्रोटीन के अच्छे और प्राकृतिक स्रोत हैं। इन सभी चीजों का नियमित रूप से सेवन करने से शरीर में कभी भी प्रोटीन की कमी को पूरा किया जा सकता हैं।

अधिक प्रोटीन से होने वाले नुकसान

आपको बता दें प्रोटीन का अधिक मात्रा में सेवन करना कभी कभी नुकसानदायक भी हो सकता है। विशेषज्ञ की माने तो प्रोटीन के ज्यादा सेवन से किडनी में पथरी, हृदय और लिवर संबंधित समस्याएं हो सकती हैं। इसलिए जितना हो सके प्राकृतिक रूप से ही शरीर में प्रोटीन की मात्रा को पूरा करें और दवाइयों का सेवन भूलकर भी नहीं करें।

नोट: यह लेख सिर्फ आपकी सामान्य जानकारी प्रदान करती है। ये किसी योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। इसलिए ध्यान रहे इन पर अमल करने से पहले किसी विशेषज्ञ या अपने डॉक्टर की सलाह एक बार अवश्य लें।

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending