अगर आप भी एक किसान है तो जाने स्प्रिंकलर सिंचाई का सही तरीका…मिलेगा ये फायदा

केन्द्र सरकार हर महीने किसानो के लिए नई-नई लुभावनी योजनाएं बनाती रहती है जिससे उनका कृषि की ओर निरंतर उत्साह बना रहे। केन्द्र सरकार की तमाम योजनाओं में से एक प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना भी है। जिसके तहत किसानों की आय और फसलों की पैदावार को बढ़ाने के लिए यह स्कीम शुरू की गई है। इस योजना के माध्यम से ड्रिप सिंचाई, स्प्रिंकलर सिंचाई आदि को बढ़ावा दिया जा रहा है। सिंचाई के इन तरीकों से पानी को बचाने की कोशिश है।

आइए जानते हैं कि क्या है स्प्रिंकलर सिंचाई और इसके फायदे…

स्प्रिंकलर सिंचाई
यह सिंचाई करने का एक उन्नत साधन और तकनीक है। इस तकनीक के माध्यम से सिंचाई ऐसे की जाती है, मानो बरसात हो रही हो। देश में इसको फव्वारा सिंचाई भी कहते हैं। इसके अंतर्गत ट्यूबवेल/टंकी या तालाब से पानी को पाइपों के द्वारा खेत तक ले जाते हैं और वहां पर उन पाइपों के ऊपर नोजिल फिट कर दी जाती है। फव्वारा सिंचाई में नोजिल का भी महत्वपूर्ण योगदान होता है। नोजिल ही यह तय करता है कि एक घंटे में एक खेत में कितने पानी की दर की आवश्यकता है एवं कितने मीटर वर्ग में इससे सिंचाई होगी। इन नोजिल से पानी फसल के ऊपर इस प्रकार गिरता है, मानो बरसात हो रही हो। इससे पूरी फसल को एक समान पानी प्राप्त होता है। 
स्प्रिंकलर को तीन भागों में बांटा गया है-
रेन गन स्प्रिंकलरमाध्यम फव्वारा/फव्वारा स्प्रिंकलरमाइक्रो स्प्रिंकलर या सूक्ष्म फव्वारा
रेन गन स्प्रिंकलर- रेन गन स्प्रिंकलर में पानी काफी तेज गति से निकलता है। इसका इस्तेमाल पलेवा करने में गन्ने की फसल में किया जाता है। 
माध्यम फव्वारा/फव्वारा स्प्रिंकलर- माध्यम फव्वारा का इस्तेमाल मुलायम फूल और पत्तियों वाली फसलों में किया जाता है। 
माइक्रो स्प्रिंकलर या सूक्ष्म फव्वारा- माइक्रो स्प्रिंकलर का प्रयोग फूलों एवं छोटे पत्ते वाली सब्जियों में किया जाता है।

ऐसे मिलेगी सब्सिडी
यदि आप स्प्रिंकलर सिंचाई करना चाहते हैं, तो इसके उपकरण खरीदने के लिए सरकार की ओर से अनुदान मिलता है। इसके लिए आपको सबसे पहले Pradhan Mantri Krishi Sinchai Yojana, के लिए ऑनलाइन आवेदन करना होगा। आवेदन के लिए राज्य सरकारें अपने अपने प्रदेश के कृषि विभाग की वेबसाइट पर आवेदन करवाती हैं।

जरूरी रखें ये डॉक्यूमेंट
• पहचान पत्र
• मोबाइल नंबर
• बैंक अकाउंट पासबुक
• पासपोर्ट साइज फोटो
• आवेदक का आधार कार्ड
• किसानो की ज़मीन के कागज़ात
• जमीन की जमा बंदी (खेत कि नकल)

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending