मुझे बिना गालियों के तालियां मिली है अपने काम के लिए: राजपाल यादव

हाल ही मे एक इंटरव्यू के दौरान मशहूर कॉमेडियन राजपाल यादव ने अपने काम और करियर पर खुलासा करते हुए बताया कि ओटीटी प्लेटफॉर्म के लिए वह खुद को परफेक्ट नहीं पाते हैं। उन्होंने कहा, लाल ओटीटी का ट्रेंड काफी चल रहा है, लेकिन मुझे नहीं लगता कि मैं इसमें फिट हो सकता हूं।

कुछ सालों से जिस तरह की वेब सीरीज आ रही हैं, मैं उनसे बिल्कुल भी रिलेट नहीं करता। मुझे गाली देना नहीं पसंद, लेकिन यही इन दिनों वेब सीरीज में चल रहा है। उन्होनें आगे कहा, “मुझे बिना गालियों के तालियां मिली है अपने काम के लिए।” उन्होंने आगे कहा, मैं वो चीजें कभी नहीं करता जिन्हें मैं रियल लाइफ में पसंद नहीं करता।

मैं गलत बातें बोलकर कमाई नहीं करना चाहता और शुक्र है कि ऐसा मैं नहीं करता। उन्होंने आगे कहा मैं बहुत खुशनसीब हूं कि 2 दशक के बाद भी लोग मुझे देखकर बोर नहीं हुए हैं। मैं इसका पूरा क्रेडिट अपने फैंस को देना चाहता हूं जिन्होंने मेरे अंदर के एक्टर को जिंदा रखा है।

उन्होंने कहा, उम्मीदें सबसे खतरनाक चीज है इस दुनिया में, मैंने कभी खुद को हीरो नहीं कहा क्योंकि मैंने कई रियल हीरो देखे हैं अपनी जिंदगी में। जो शख्स ग्लास की खिड़की को साफ करता है या जो पहाड़ों से एक परफेक्ट सुरंग निकालता है। इन लोगों के कम्पेयर में मैं खुद को जीरो समझता हूं। लेकिन इसका मतलब ये नहीं कि मैं खुद को कम समझता हूं। मेरा वैल्यू बढ़ जाती है जब उसमें जीरो जुड़ता है।

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending