कोरोना संक्रमण को ठीक करने में कितना असरदार है भाप लेना? जानिए स्टीम लेने के कुछ चौंका देने वाले फायदे

इन दिनों कोरोना वायरस ने देशभर में कोहराम मचा रखा है। रोज देश में करीब 3 लाख से ज्यादा मामले सामने आ रहे हैं तो वहीं हजारों लोगों की इस वायरस से जान जा रही है, और लोगों के मन में भय पैदा हो रहा है। यही नहीं कोरोना से निजात पाने के लिए लोग न जाने घर में क्या-क्या तरकीबे अपनी जीवनशैली में अपना रहे हैं।

कोरोना से छुटकारा पाने के लिए कई लोग इन दिनों काढ़े का जमकर सेवन कर रहे हैं तो कुछ विटामिन-सी को अपनी डाइट का हिस्सा बना रहे हैं। लेकिन ध्यान रहे इस समय कोई सबसे जरूरी काम है तो वो और कुछ नहीं बल्कि मास्क,सोशल डिस्टेंसिंग और समय-समय पर हाथ धोना है। लेकिन आजकल लोग घर रहकर कोरोना से एक और चीज़ से अपना बचाव कर रहे हैं और वो है वह है स्टीम थेरेपी ।

लेकिन क्या स्टीम थैरेपी कोरोना वायरस को ठीक करने या बचाव करने में मददगार है? क्या स्टीम लेने से कोरोना वायरस खत्म हो सकता है और दिन में कितनी बार स्टीम लेना चाहिए? तो चलिए आज हम आपको इन्हीं सब बातों के बारे में कुछ विस्तार से बातयेंगे जो आपके लिए काफी हद तक मददगार सिद्ध होगी।

स्टीम लेने के लाभ
-स्टीम लेने से फेफड़ों में जमा हुआ सारा कफ आसानी से बाहर निकल जाता है।
– अस्थमा के पेशेंट्स के लिए स्टीम लेना काफी हद तक लाभदायक हो सकता है।
– स्टीम लेने से चेहरे पर चमक आती है साथ ही कील-मुहांसों से निजात मिल जाता है।
– स्टीम लेने से एक गजब का फायदा यह होता है की भाप लेने से कोरोना फेफड़ों पर अधिक असर नहीं कर पाता है।

क्या है एक्सपर्ट की राय
 कोरोना वायरस को ठीक करने के लिए स्टीम लेना कितना फायदेमंद होता है इसके बारे में अब तक कोई प्रमाण नहीं मिला है कि स्टीम लेने से वायरस से पूरी तरह छुटकारा पाया जा सकता है, हालांकि ऐसा कहा जाता है कि कोरोना महामारी के समय स्टीम लेना फायदेमंद हो सकता है। क्योंकि कोरोना वायरस फेफड़ों को सबसे ज्यादा प्रभावित करता है और स्टीम लेने से फेफड़ों की सफाई होती है। इसलिए दिन में 1 बार भाप लेने से कोरोना संक्रमण का फेफड़ों पर कुछ ज्यादा असर नहीं होगा। साथ आप खुद का बचाव कर सकेंगे।

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending