सरकार ने लिया बड़ा फैसला, वैक्सीनेशन के बदले मुफ्त में मिलेगा फ्रेश चिकन

कोरोना वायरस (Coronavirus) ने देश भर में इतना हाहाकार मचाया है जिसके कारण लोगो के मन में दहशत बैठ चुकी है। ऐसे में कोरोना को हराने का एकमात्र उपाय वैक्सीन ही है। वैक्सीन लगाने का काम लगभग हर देश में पूरा हो चुका है। सभी देश इस कोशिश में लगे है की उनके देश की पूरी जनता को जल्द से जल्द वैक्सीन लग जाए जिससे की कोरोना के बढ़ते दायरे को रोका जा सके। किंतु लोगो के मन में वैक्सीन के साइड इफेक्ट करने का डर इस तरह घर कर के बैठ गया है की अब सरकार के सामने सबसे बड़ी चुनौती बन चुका है की वह किस तरह जनता को समझा बुझाकर वैक्सीन लगवा सकती है। ऐसे में तमाम तरह के देश लोगो को लालच दे देकर वैक्सीनेशन करवा रहे है। ऐसा ही एक मामला इंडोनेशिया से सामने आया है जहां की सरकार ने प्रौढ़ और बुजुर्ग लोगों को टीकाकरण (Vaccination for Adults) के लिए मनाने का दिलचस्प तरीका सामने रखा है। इंडोनेशिया (Indonesia) के कुछ हिस्सों में लोगों को टीका लगवाने के बदले फ्रेश चिकन (Chicken offer for Vaccination) दिया जा रहा है।

जानकारी के मुताबिक, शुरुआत में लोगों को टीका लगाना बहुत मुश्किल था। खास तौर पर बड़े-बुजुर्ग टीके के पक्ष में बिल्कुल नहीं थे। ऐसे में पिछले महीने से ही यहां चिकन प्रोग्राम (Chicken offer for Vaccination) चालू कर दिया गया। इसके बाद वैक्सीनेशन में तेज़ी दिखी। जहां पहले 25 से 200 लोगों को हम राज़ी कर पाते थे वहीं अब हर दिन 250 लोग टीका लगवाने सेंटर पहुंच रहे हैं। अब तक इंडोनेशिया के पेकाट (Pecat) में लगभग 500 मुर्गे बांटे जा चुके हैं। इसका फायदा ये हुआ है कि पेकाट जिला करीब-करीब पूरा वैक्सीनेटेड हो चुका है। चिकन प्रोग्राम के अलावा भी लोगों को वैक्सीनेशन के लिए जागरूक करने का सिलसिला जारी है। घर-घर जाकर उन्हें इसके बारे में बताया जा रहा है और उनका चेक अप किया जा रहा है। अच्छी बात ये है कि वे टीके के बदले चिकन पाकर खुश हो जाते हैं। बता दें कि इंडोनेशिया में कोरोना वायरस से करीब 20 लाख से भी ज्यादा लोग प्रभावित हुए थे, जबकि इस देश में लगभग 53 हजार लोगों की मौत वायरस के चलते हो गई थी। 

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending