यूपी में ब्राह्मण सम्मेलन से सरकार की उड़ी नींद, रोकने के लिये तरह तरह के हथकंडे अपना रही हैं सरकार: मायावती

उत्तर प्रदेश में अगले साल होने जा रहे विधानसभा चुनावों को ध्यान में रखते हुए बसपा ने राज्य के विभिन्न जिलों में प्रबुद्ध सम्मेलन की श्रृंखला के माध्यम से ब्राह्मण वर्ग तक पहुंच बनाने के लिए कार्यक्रम शुरू किया है। इसी कड़ी में मगंलवार को बसपा सुप्रीमो और यूपी की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने ट्वीट कर कहा की पार्टी के राज्य में चल रहे ब्राह्मण सम्मेलन से विपक्ष की नींद उड़ गई है और इसे रोकने के लिये तरह तरह से हथकंडे अपनाये जा रहे हैं।

मायावती ने आगे कहा, ”मेरे निर्देशन में, पार्टी महासचिव और राज्यसभा सदस्य सतीश चन्द्र मिश्र द्वारा उप्र में चलाई जा रही प्रबुद्ध वर्ग संगोष्ठी ब्राह्मण सम्मेलन के नाम से चर्चा में है। संगोष्ठी के प्रति उत्साहपूर्ण भागीदारी इस बात का प्रमाण है कि लोगों का बसपा में विश्वास है। इसके लिए सभी का दिल से आभार। ”मायावती ने ट्वीट में लिखा ”अयोध्या से 23 जुलाई को श्री रामलला के दर्शन के साथ शुरू हुआ यह कारवां आम्बेडकरनगर और प्रयागराज जिलों से होता हुआ सफलतापूर्वक आगे बढ़ रहा है, जिससे विरोधी पार्टियों की नींद उड़ गई है।

इसे रोकने के लिए अब ये पार्टियां किस्म-किस्म के हथकंडे अपना रही हैं, इनसे सावधान रहें। ”गौरतलब हो की यूपी में अगले साल विधानसभा चुनाव होने जा रहे है। जिसे देखते हुए मायावती का ब्राह्मणों के लिए प्यार फिर जाग उठा है और अपने हर साल की तरह उन्होंने अपना ब्राह्मण कार्ड कर खोल दिया है। बता दें की समाजवादी पार्टी ने भी अगले माह से चुनावो के मद्देनजर होने वाले कार्यक्रमों के आयोजनों को मंजूरी दे दी है और इसकी शुरुआत बलिया जिले से होगी।

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending