खुशखबरी!! अब हरियाणा सरकार किसानों को देगी सालाना 7000 रुपये की मदद? ऐसे करवाएं रजिस्ट्रेशन

किसानो के लिए केंद्र और राज्य सरकार समय समय पर लुभावनी योजनाएं लाती रहती है। जो किसानो को प्रोत्साहित करती है ऐसी ही एक योजना हरियाणा सरकार ने किसानो के लिए शुरू की है जिसके तहत किसानों को सालाना 7000 रुपये दिए जायेंगे। वहीं अगर आप धान की जगह एग्रो फारेस्ट्री को अपनाकर प्रति एकड़ 400 पेड़ लगाने लगाएंगे तो यह रकम 10,000 रुपए हो जाएगी। यह योजना उन किसानों के लिए है जिन्होंने धान की फसल (Paddy Crop) छोड़कर कम पानी वाली फसलों को अपना लिया है। बता दें की इस समय प्रदेश में 1,26,928 हैक्टेयर में धान की जगह किसान दूसरी फसलें लगा रहे हैं।

मेरा पानी-मेरी विरासत योजना का लाभ पाने के लिए किसानों (Farmers) को मेरी फसल-मेरा ब्यौरा एवं मेरा पानी-मेरी विरासत पोर्टल पर प्रति एकड़ फसल की विस्तृत जानकारी डालनी होगी। यह जानकारी अपलोड किए जाने के बाद विभाग वेरीफिकेशन करेगा।इसके बाद पात्रों को प्रोत्साहन राशि जारी की जाएगी। प्रशासन की ओर से कृषि अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं कि इस स्कीम की प्रोत्साहन राशि से संबंधित किसी भी आवेदन के संबंध में कोई शिकायत न आए। उधर, झज्जर जिले में आने वाले गांव ढाकला के किसानों ने इस बार सामूहिक रूप से 3445 एकड़ भूमि में धान की खेती (Paddy farming) नहीं करने का निर्णय लिया है।

अगर आप धान की जगह किसी भी फसल की खेती नहीं करते हैं तो भी आपको 7000 रुपये प्रति एकड़ के हिसाब से मिलेंगे। इसके लिए ‘खेती खाली-फिर भी खुशहाली’ का नारा दिया गया है। दरअसल, हरियाणा में जल संकट (Water crisis) गहरा रहा है और यह प्रमुख धान उत्पादक है। एक किलो चावल पैदा करने में करीब 3000 लीटर पानी की खपत होती है। पिछले साल इस योजना (Scheme) के तहत किसानों ने 96000 एकड़ में धान की बजाय अन्य फसलों की बिजाई की थी।

मेरा पानी-मेरी विरासत योजना के फायदे
अब फसल विविधीकरण अपनाने वाले किसानों को सूक्ष्म सिंचाई संयत्र लगाने पर कुल लागत का केवल जीएसटी ही देना होगा। वहीं धान की जगह मक्का, बाजरा और दलहन उगाने पर उसकी एमएसपी (Minimum support price) पर खरीद की गारंटी मिलेगी। इसके अलावा मुफ्त फसल बीमा का भी लाभ मिल सकता है। फिलहाल, 80,640 एकड़ जमीन के फसल बीमा का प्रीमियम सरकार भरेगी। इतना ही नही किसानों के हिस्सा के तौर पर हरियाणा सरकार ने 15.32 करोड़ रुपये का प्रीमियम दिया है।

ऐसे करें रजिस्ट्रेशन
हरियाणा सरकार की इस योजना अथवा मुहिम को मेरा पानी-मेरी विरासत योजना (Mera Pani Meri Virasat Scheme) का नाम दिया गया है। अगर आप भी इस मुहिम में जुड़ना चाहते हैं तो सिर्फ 10 दिन का मौका है। मेरा पानी-मेरी विरासत योजना (Mera Pani Meri Virasat Scheme) पोर्टल पर जाकर 25 जून तक रजिस्ट्रेशन करवा लें। आप अगर पानी बचाने की इस मुहिम में शामिल होना चाहते हैं तो अपने क्षेत्र के खंड कृषि अधिकारी कार्यालय में संपर्क करके रजिस्ट्रेशन करवा लें।

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending