खुशखबरी!! किसानों को प्रति एकड़ पर मिलेंगे 5-5 हजार रुपए, 15 जून के बाद खाते में आएगा पैसा

तेलंगाना (Telangana) के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव (Chandrasekhar Rao) किसानों के लिए एक सुनहरा मौका लेकर आए है। मुख्यमंत्री चंद्रशेखर राव ने 15 से 25 जून तक वर्षाकालीन मौसम से संबंधित रायतू बंधु सहायता राशि किसानों के बैंक खातों में जमा करने के आदेश दिए हैं। अब किसानों को प्रति एकड़ पर 5-5 हजार रुपए दिए जायेंगे। मुख्यमंत्री के आवास पर चली कृषि संबंधी समीक्षा बैठक में मुख्यमंत्री राव ने बताया कि इस योजना के अंतर्गत करीब 61 लाख किसानों के खाते में कुल 7300 करोड़ रुपए जमा किए जाएंगे। 10 जून से पहले तक जमीन खरीदने वाले किसानों को इस योजना के तहत लाभ मिलेगा।

साठगांठ करने वाले कृषि अधिकारियों पाचं साल की सजा का प्रावधान: मुख्यमंत्री चंद्रशेखर राव
मुख्यमंत्री राव ने कहा कि फर्जी बीज बेचने वालों को पकड़ने वाले अधिकारियों को पदोन्नति देने के साथ- साथ सेवा मेडल भी प्रदान किया जाएगा। उन्होंने राज्य के पुलिस महानिदेशक को जिलों में फर्जी बीज बेचने वालों को पकड़ने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री ने चेतावनी देते हुए कहा कि फर्जी बीज व्यापारियों के साथ साठगांठ करने वाले कृषि अधिकारियों को तत्काल बर्खास्त कर पाचं वर्ष जेल के लिए भेज दिया जाएगा। उन्होंने वर्षाकालीन मौसम के लिए किसानों को गुणवत्तापूर्ण बीज, उर्वरक व कीटनाशक उपलब्ध कराने के लिए भी आवश्यक कदम उठाने के निर्देश दिए हैं। साथ ही नकली बीज, उर्वरक बेचने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं।
राज्य सरकार ने शत प्रतिशत धान खरीदी करने का निर्णय लिया
तेलंगाना (Telangana) के मुख्यमंत्री चंद्रशेखर राव ने आरोप लगाते हुए कहा कि पंजाब जैसे राज्यों में शत प्रतिशत धान खरीदने वाली भारतीय खाद्य निगम (एफसीआई) तेलंगाना में ऐसा नहीं कर रही है। उन्होंने इस मामले पर असंतोष जताते हुए कहा कि शीघ्र ही इस संबंध में केंद्र सरकार को एक पत्र लिखा जाएगा। राव ने आगे कहा कि कोरोना संकट के बीच किसानों को राहत देने के लिए स्वयं सरकार शत प्रतिशत धान खरीदी करने का निर्णय लिया है। अब तक 87 प्रतिशत धान खरीदा जा चुका है। किसानों को परेशान होने की कोई जरूरत नहीं है, क्योंकि चार-पांच दिन में शेष धान भी खरीदा जाएगा। उन्होंने बताया कि केंद्र सरकार से यह अनुरोध किया जाएगा कि तेलंगाना में आने वाले शत प्रतिशत धान खरीदा जाए।

धान उत्पादन में पंजाब के साथ मुकाबला 
मुख्यमंत्री ने कहा कि दलाल व्यवस्था के बिना सीधे किसानों के बैंक खातों में ही कृषि प्रोत्साहन रायतू बंधु सहायता राशि जमा किए जाने से आज किसान खेती की जरूरतों के लिए निजी व्यापारियों पर निर्भर होने से मुक्त हुआ है। मुख्यमंत्री कार्यालय से जारी बयान में बताया गया है कि सरकार ने काफी सोच-समझकर उठाए गए कदमों से वर्तमान कृषि क्षेत्र में बदलाव आया है। राज्य के किसानों को एक समय सिंचाई के लिए काफी परेशानी का सामना करना पड़ता था, परंतु आज तेलंगाना में पर्याप्त जल उपलब्ध हो गया है। यहां के किसान आज एक सीजन में कुल डेढ़ करोड़ टन धान का उत्पादन कर रहे हैं। धान उत्पादन में तेलंगाना आज पंजाब के साथ मुकबला कर रहा है। यह सब सिंचाई क्षेत्र में उठाए गए क्रांतिकारी कदमों के चलते ही यह सब संभव हुआ है।

बयान में मुख्यमंत्री ने कुछ ही दिनों में शुरू होने वाले वर्षाकालीन मौसम को ध्यान में रखते हुए अधिकारियों को राज्य में सरकार से अनुमति प्राप्त कंपनियों के ही बीज, कीटनाशक की बिक्री होने देना सुनिश्चित करने को कहा है। मुख्यमंत्री कार्यालय से जारी बयान में बताया गया है कि सरकार ने काफी सोच-समझकर उठाए गए कदमों से वर्तमान कृषि क्षेत्र में बदलाव आया है।

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending