आज से विभाजन विभीषिका स्मृति दिवस के रूप में मनाया जाएगा 14 अगस्त, पीएम मोदी ने किया ऐलान

आजादी की 72वीं वर्षगांठ से ठीक एक दिन पहले पीएम मोदी ने विभाजन की पीड़ा को याद करते हुए बड़ा फैसला लिया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को घोषणा करते हुए कहा की 14 अगस्त को अब से भारत में ‘विभाजन विभीषिका स्मृति दिवस’ के रूप में याद किया जाएगा। बता दें कि भारत 15 अगस्त को अपना स्वतंत्रता दिवस मनाता है, जबकि पाकिस्तान 14 अगस्त को मनाता है। 14 अगस्त को भारत के दो टुकड़े हुए थे और एक नए मुल्क का जन्म हुआ था।
पीएम मोदी ने आगे कहा देश के बंटवारे के दर्द को कभी भुलाया नहीं जा सकता। नफरत और हिंसा की वजह से हमारे लाखों बहनों और भाइयों को विस्थापित होना पड़ा और अपनी जान तक गंवानी पड़ी। उन लोगों के संघर्ष और बलिदान की याद में 14 अगस्त को ‘विभाजन विभीषिका स्मृति दिवस’ के तौर पर मनाने का निर्णय लिया गया है।
उन्होंने आगे कहा कि #PartitionHorrorsRemembranceDay यानी ‘विभाजन विभीषिका स्मृति दिवस’ का यह दिन हमें भेदभाव, वैमनस्य और दुर्भावना के जहर को खत्म करने के लिए न केवल प्रेरित करेगा, बल्कि इससे एकता, सामाजिक सद्भाव और मानवीय संवेदनाएं भी मजबूत होंगी। बता दें कि भारत कल यानी रविवार को अपना 75वां स्वतंत्रता दिवस मनाएगा।
बता दें इससे पहले सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने शुक्रवार को बताया कि आजादी की 75वीं सालगिरह मनाने की सरकार की पहल ‘आजादी का अमृत महोत्सव’ के लिए उसने ‘नवोन्मेषी’ कार्यक्रमों की श्रृंखला तैयार की है। मंत्रालय ने कहा कि इन कार्यक्रमों का उद्देश्य ‘नए भारत’ की यात्रा में बलिदान के भाव और देशभक्ति के जज्बे को याद करने में लोगों की भागीदारी सुनिश्चित करना है।

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending