बरसात में बच्चों को हेल्दी रखने के लिए अपनाएं ये बेहद आसान टिप्स

देशभर में मानसून ने अपनी दस्तक दे दी है, ऐसे में गर्मी से जूझ रहे लोगों को चिलचिलाती धुप से थोड़ी राहत तो जरूर मिली है, लेकिन अब मच्छरों का प्रकोप सिर चढ़कर बोल रहा है। दरअसल झमाझम बारिश होने की वजह से मच्छर पनपने लगते हैं, जिसके बाद इनके काटने से मलेरिया, डेंगू,

चिकनगुनिया और ज़ीका वायरस समेत कई बीमारियां होने का खतरा बढ़ जाता है। इसके अलावा तापमान असमानता के चलते सर्दी-खांसी और जुकाम जैसी बीमारियां भी हमें अपना शिकार बना लेती हैं।

जैसे की इस बात से सब लोग वाकिफ हैं कोरोना वायरस अब तक भी देश में खत्म नहीं हुआ है, वहीं  दूसरी तरफ लगातार बरसात हो रही है तो ऐसे में सेहतमंद रहने के लिए इम्यून सिस्टम मजबूत होना सबसे ज्यादा जरूरी है। लेकिन मानसून में बच्चों को हेल्दी रखना कोई आसान काम नहीं होता है।

दरअसल बच्चों की इम्युनिटी बेहद नाजुक होती है इस वजह से बरसात के मौसम में बच्चे अधिक बीमार पड़ते हैं। यदि आप भी अपने बच्चे को मानसून में सुरक्षित रखना चाहते हैं, तो ये कुछ जरूरी टिप्स आपके काम जरूर आ सकते हैं।

1. कपड़ो का चयन सही हो

आप और हम सभी इस बात से अच्छी तरह वाकिफ हैं बरसात के मौसम में तापमान में उतार-चढ़ाव होता रहता है। ऐसे में बच्चों को लाइट कपड़ें ही पहनाएं। इस दौरान सूती कपड़ें का इस्तेमाल करना सबसे अच्छा होता है। इसके अलावा आप मौसम के हिसाब से कपडे चेंज कर सकते हैं।

2. मच्छरों से बचाव करें

बारिश के मौसम में मच्छरों का प्रकोप सबसे ज्यादा देखने को मिलता है। इस दौरान बच्चों को मच्छरों से बचाने के लिए पूरी बाजू के कपड़ें पहनाएं। इसके साथ ही रूम में मॉस्कीटो लिक्विड को इस्तेमाल करें।  

3. रोजाना नहलाएं

बदलते मौसम में कई लोगों का ऐसा मानना होता ही कि बच्चों को रोजाना नहीं नहलाना चाहिए। इससे बच्चे बीमार पड़ सकते हैं। लेकिन ऐसा कुछ भी नहीं है। डॉक्टर की मानें तो बारिश में भी बच्चे को रोजाना नहलाएं। परन्तु बच्चे को नहलाने से पहले उनकी तेल मालिश जरूर करें। बरसात में ठंडे पानी से बच्चे को नहीं नहलाएं बल्कि हल्का गुनगुना गर्म पानी का इस्तेमाल करें।

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending