फिल्म डायरेक्टर प्रीतीश नंदी ने अदालत के फैसले पर उठाए सवाल, कहा – शाहरुख खान के बेटे होने की कीमत चुका रहे आर्यन

मशहूर फिल्म डायरेक्टर और लेखक प्रीतीश नंदी ने अदालत के फैसले को गलत और अन्यायपूर्ण करार दिया है। एक इंटरव्यू के दौरान उन्होंने कहा की, यह गलत और अन्यायपूर्ण है क्योंकि जेल में कैदी को सही ठहराने के लिए कोई सबूत नहीं है। उन्होंने इस पूरे मामले को राजनीतिक बताते हुए कहा की, “यह साफ तौर पर राजनीति का मामला है और यह बहुत शर्म की बात है कि एक युवक अपने व्हाट्सएप मैसेज के लिए जेल में है और वास्तविक गलत काम का कोई सबूत नहीं है।”

प्रीतीश नंदी ने आगे कहा की, ” जाने-माने लोगों और उनकी संतानों को दंडित करना या उन पर हमला करना आज प्रिविलेज लोगों के खिलाफ एक बहादुर युद्ध के रूप में देखा जाता है। यह प्रचार के भूखे सरकारी अधिकारियों को हीरो बना देता है। लेकिन यह न्याय के आदर्शों को पूरा नहीं करता है। दरअसल जमानत नियम है, जेल नहीं।” उन्होंने आगे कहा की आर्यन खान शाहरुख खान के बेटे होने की कीमत चुका रहे है।

उन्होंने आगे कहा की, “कहीं यह तो नहीं कि शाहरुख को ब्रांड शाहरुख होने और खासे मुखर होने की सजा दी जा रही है या आर्यन को एक विशेषाधिकार प्राप्त परिवार से संबंधित होने के लिए दंडित किया जा रहा है? एक जरूर स्पष्ट है। वह यह कि आज कल वैसे यंग लोगों को पनिशमेंट देना हीरोइज्म कहलाया जा रहा है, जिनके खिलाफ सबूत बिल्कुल कमजोर और अपर्याप्त हैं। अपने उस हीरोइज्म को जस्टिफाई करने के लिए उस युवा को जेल के अंदर रखा जा रहा है।”

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending