कोरोना से मौत के भय मे खूंखार बनी मां, अपनी ही 5 साल की बेटी को 15 बार घोंपा चाकू, मौके पर ही हुई मौत

कोरोना का भय इस कदर लोगो के दिलो दिमाग में बैठ गया है की इसने इंसानियत को तार तार कर दिया है। इंसानियत तो छोड़ो कोरोना ने आज एक मां की ममता का ही गला घोट दिया है। आज जो घटना हम आपको बताने जा रहे है उससे आपका ना केवल इंसानियत पर से भरोसा उठ जाएगा यहां तक जिंदगी में फिर शायद ही कभी आप मां की ममता वाली कहावतों पर यकीन कर पाएंगे। कहते है ‘माता सुनी ना कुमाता’ , आज हम आपको भारत से दूर देश ब्रिटेन की एक ऐसी घटना के बारे में बताने जा रहें है जहां साक्षात माता को ‘कुमाता’ बनते आसानी से देखा जा सकता है। एक ऐसी ‘कुमाता’ जिसने अपनी ही औलाद को इतनी बेदर्दी से मार दिया की अगर कोरोना वायरस की आंखे होती तो यह सब देख उसे भी रोना आ जाता है। 
दरअसल हाल ही में ब्रिटेन की राजधानी लंदन में एक मां ने अपनी ही 5 साल की बेटी सयागी को चाकू से गोदकर मौत के घाट उतार दिया। आरोपी महिला के पति ने बताया कि सुथा शिवनाथम ने अपनी पांच साल की बेटी की 15 बार चाकू मारकर हत्या इसलिए कर दी क्योंकि शायद उसे डर था कि वह कोविड-19 से मर गई तो उसकी बेटी की देखरेख कौन करेगा।
शिवनाथम ने माना कि यह सब उसने किया है। खुद को पहले भी घायल कर चुकी शिवनाथम दो महीने अस्पताल में भी रह चुकी है। उसके साइकेट्रिस्ट ने बताया कि लॉकडाउन में और अकेली होने के चलते वह स्ट्रेस में आ गई थी। फिलहाल 36 वर्षीय सुथा शिवनाथम को इस हैवानियत के लिए पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है और कोर्ट में सुनवाई चल रही है।
हालांकि, यहां मामला एक मानसिक बीमारी से जुड़ा मालूम पड़ता है। अरेंज मैरिज के बाद साल 2006 से यूके में रह रही शिवनाथम को लगभग एक साल पहले कोरोना बीमारी का पता लगा था। आरोपी महिला के पति ने बताया कि उसे हमेशा लगता था कि वह मर जाएगी। घटना के दिन, उसने अपने पति से काम पर न जाने को कहा और दोस्तों को फोन करके बताया कि वह ठीक नहीं है।

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending