किसान नेता चढूनी ने मोदी सरकार को दी चेतावनी, कहा – जबरन हटाने की कोशिश होगी तो पीएम मोदी के दरवाजे पर जमाएंगे डेरा

सुप्रीम कोर्ट द्वारा जारी दिशा निर्देशों के मुताबिक गाजीपुर और टिकरी बॉर्डर से पुलिस द्वारा लगाए गए बैरिकेड्स हटा दिए गए है। किसान आंदोलन की वजह से यह दो रास्ते अभी तक बंद थे। माना जा रहा है की किसान आंदोलन की वजह से दूसरी अन्य जगहों पर बंद पड़े रास्ते भी सरकार जल्द ही खोलेगी। जिस पर बीकेयू के वरिष्ठ नेता गुरनाम सिंह चढूनी ने चेतावनी देते हुए कह दिया है कि अगर किसानों को जबरदस्ती हटाया जाएगा तो पीएम मोदी के आवास के गेट के बाहर दिवाली मनाई जाएगी।

चढूनी ने रविवार को करनाल के कई स्थानों का दौरा किया और किसानों से दिल्ली सीमा के सभी धरना स्थलों पर अपनी संख्या बढ़ाने का आग्रह किया। इसके बाद उन्होंने एक वीडियो मैसेज के जरिए कहा कि सरकार पिछले कई दिनों से सीमाओं को खोलने की कोशिश कर रही है। लोगों के बीच अफरातफरी है। चर्चा है कि सरकार दिवाली से पहले सड़कों को साफ कर देगी। हम सरकार को चेतावनी देना चाहते हैं कि यह गलत नहीं होना चाहिए।

सोशल मीडिया पर वायरल एक वीडियो में बीकेयू के वरिष्ठ नेता गुरनाम सिंह चढूनी कहते दिखाई दे रहे है की, अगर किसानों संग जबरदस्ती की गई तो वे सीधे दिल्ली की ओर कूच कर देंगे। उन्होंने दावा किया कि पूरे देश के किसान उनका इस मुहिम में समर्थन करेंगे। बता दें कि गुरनाम सिंह चढूनी कई मौकों पर अपने विवादित बयानों की वजह से सुर्खियों में रह चुके हैं। हरियाणा सीएम मनोहर लाल खट्टर को पाकिस्तानी बताने की वजह से तो उन्हें SKM द्वारा सस्पेंड भी कर दिया गया था। 

वहीं राकेश टिकैत ने केंद्र सरकार को सीधे चेतावनी देते हुए कहा कि हमें पता चला है कि प्रशासन जेसीबी की मदद से यहां टेंट को गिराने की कोशिश कर रहा है। अगर वे ऐसा करते हैं, तो किसान पुलिस थानों, डीएम कार्यालयों में अपना टेंट लगाएंगे। राकेश टिकैत ने कहा, अगर किसानों को बॉर्डरो से जबरन हटाने की कोशिश हुई तो वे देश भर में सरकारी दफ्तरों को गल्ला मंडी बना देंगे। वहीं, इससे पहले टिकैत ने कहा था कि सरकार अपनी जिद छोड़े, वरना संघर्ष और भी तेज होगा।

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending