DU : डीटीए के पूर्व अध्यक्ष ने विश्वविद्यालय के डीन को पत्र लिखकर की ये मांग, कही ये बात

फोरम ऑफ एकेडेमिक्स फॉर सोशल जस्टिस के चेयरमैन व आप टीचर्स विंग डीटीए के पूर्व अध्यक्ष डॉ. हंसराज सुमन ने दिल्ली यूनिवर्सिटी के डीन ऑफ कॉलेजिज को पत्र लिखकर दिल्ली सरकार के वित्त पोषित 28 कॉलेजों की गवर्निंग बॉडी को एक्सटेंशन ( विस्तार ) देने की मांग की है।
उन्होंने दिल्ली विश्वविद्यालय प्रशासन का ध्यान इस तथ्य की ओर आकर्षित किया कि दिल्ली सरकार द्वारा वित्त पोषित  कॉलेजों की प्रबंध समितियों का कार्यकाल 16 दिसंबर 2022 को समाप्त हो रहा है। उनका कहना है कि दिल्ली सरकार के इन कॉलेजों में गवर्निंग बॉडी के ना रहने से जहाँ स्थायी प्रिंसिपलों की नियुक्ति प्रभावित होंगी वहीं दूसरी ओर शैक्षिक व गैर -शैक्षिक नियुक्तियों पर भी प्रभाव पड़ेगा।
उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार के 20 कॉलेजों में प्रिंसिपलों की नियुक्ति होनी है , इन नियुक्तियों को लेकर स्क्रीनिंग व स्कूटनी का कार्य जोरों पर चल रहा है । आप टीचर्स विंग डीटीए के पूर्व अध्यक्ष डॉ. हंसराज सुमन ने बताया है कि दिल्ली विश्वविद्यालय के अध्यादेश XVIII खंड 3(1) में कहा गया है कि एक वर्ष की समाप्ति पर, कार्यकारी परिषद, या तो ट्रस्ट /दिल्ली सरकार के अनुरोध पर या अपने स्तर पर,
जैसा भी हो, यदि वह उनके कार्यों से संतुष्ट है तो वर्तमान परिस्थितियों को देखते हुए मौजूदा ट्रस्ट / दिल्ली सरकार की प्रबंध समितियों में नामांकित व्यक्तियों के कार्यकाल का छह महीने की अवधि के लिए विस्तार दिया जा सकता है । इन प्रबंध समितियों को एक बार में तीन महीने से अधिक नहीं। बशर्ते आगे वे कार्यकारी परिषद द्वारा अनुमोदन प्रदान करने पर प्रबंध समितियों के मौजूदा पदाधिकारी विस्तारित अवधि के लिए कार्य करना जारी रखेंगे।

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending