कोरोना वायरस के इलाज के लिए आज लांच हुई दवा, ऑक्सिजन की जरूरत को करेगा कम घर में हो जायेगा इलाज

कोरोनावायरस   के मरीजों के इलाज के लिए दवा 2-डीऑक्सी-डी-ग्लूकोज (2-DG) दवा के पहले बैच का आज लॉन्च कर दिया गया है। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह  और केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन आज सुबह 1 दवा  को लॉन्च किया।

इस दवा को रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (DRDO) ने डॉ. रेड्डीज लैबोरेटरीज (DRL) के सहयोग से विकसित किया है। मंत्री राजनाथ सिंह और केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने डीआरडीओ के मुख्यालय में सोमवार यानी आज सुबह 10:30 बजे कोरोना की देसी दवा की पहली खेप लॉन्च की। आज 10 हजार मरीजों को कोरोना की देसी दवा 2-DG दी जा सकती है।

डीऑक्सी-डी-ग्लूकोज यानी 2-DG के लॉन्च के बाद हर किसी के मन में ये सवाल है कि ये दवा कोरोना वायरस के इलाज में कितनी कारगर है और बाजार में कब से मिलेगी? इसका इस्तेमाल कैसे करना है?

दवा की पूरी जानकारी देने जा रहे हैं, लेकिन सबसे पहले ये जान लीजिए कि DCGI ने इस दवा के इमरजेंसी इस्तेमाल की मंजूरी दे दी है।  ये मंजूरी तीसरे क्लीनिकल ट्रायल के सफल होने के बाद दी गई है। ये तीसरा चरण दिसंबर 2020 से लेकर मार्च 2021 तक कोरोना से संक्रमित 220 मरीजों पर किया गया था और इस दौरान पाया या कि अस्पताल में भर्ती मरीजों की ऑक्सीजन पर निर्भरता घट गई।

रक्षा मंत्रालय का कहना है कि 2-डीजी एक जेनेरिक मॉलीक्यूल है और ग्लुकोज से मिलती जुलती है, इसलिए इसका उत्पादन आसान होगा और ये दवा देश में बड़े पैमाने पर उपलब्ध कराई जा सकेगी। डॉक्टर अनंत नारायण ने कहा, ‘इस ड्रग को हम जल्द से जल्द मार्किट में लाने का काम कर रहे है। यह दवा पाउडर के रूप में आता है पानी में घोल कर दिया जाता है। इसको दिन में 2 बार सुबह-शाम देने के बाद मरीज लगभग सात दिन में लोग ठीक हो रहे है।

ऑक्सीजन की किल्लत से मिलेगी राहत –

इस दवा के बाजार में आने से एक और बड़ी राहत मिलेगी।  अभी जो ऑक्सीजन की मारा-मारी है, दावा है कि इस दवा के मिलने के बाद ये समस्या बहुत हद तक कम होगी साथ ही ये दवा कोविड से संक्रमित मरीजों की अस्पताल में दाखिले की संख्या को भी कम करेगी।  यानी मरीज घर पर रहकर ही डॉक्टर की सलाह से ये दवा लेकर ठीक हो जाएंगे। 

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending