इन वस्तुओं का न करें सेवन, कैंसर और‌ कोरोना जैसी हो सकती है जानलेवा बीमारी

कोरोना वायरस फेफड़ों से कमजोर व्यक्तियों को आसानी से अपना शिकार बनाता है। इसलिए जरुरी है कि हम अपने भोजन में उन्हीं चीजों को शामिल करें जो हमारे इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाने में सहायक हों। उन चीजों को बिल्कुल न लें जो हमारे फेफड़ों और शरीर को कमजोर बनाते हों। क्योंकि फेफड़ों का ठीक ढंग से काम न करना मतलब मतलब फेफड़ों का कमजोर होना है। ऐसे में अस्थमा, ब्रोंकाइटिस, निमोनिया, टीबी, कैंसर जैसी जानलेवा बीमारियों का खतरा रहता है। 

कोरोना वायरस जैसी महामारी से बचना तो काफी मुश्किल होता है,क्योंकि यह सीधे लंग्स पर ही अटैक करता है। जिसके कारण आपको सांस लेने में अधिक समस्या होती है। सबसे जरूरी हैं कि आप अपने फेफड़ों को हेल्दी रखे।

इन चीजों का सेवन करने से बचें: 

खट्टे फल
अगर आपको अधिकतर एसिडिटी की समस्या का सामना करना पड़ता है। ऐसे में खट्टी चीजों से दूरी बना लें। दरअसल एसिडिटी के कारण शरीर में एसिड रिफ्लक्स फेफड़ों के रोगों को बढ़ाने में मदद करता है। इसलिए हो सके तो खट्टे चीजों का सेवन कर दें। इससे आपके शरीर में एसिड की मात्रा कम हो जाएगी।

तला हुआ भोजन
ज्यादा तला हुआ मसालेदार खाना खाने से पेट में ब्लोटिंग हो सकती हैं। जिसके कारण आपको सांस लेने में समस्या हो सकती है। जिससे आपके फेफड़ों पर दवाब पड़ता है। इतना ही नहीं इन चीजों का सेवन करने से आपके हार्ट पर भी बुरा असर पड़ता है। इसलिए खुद को फिट रखने के लिए कम से कम तली हुई चीजों का सेवन करे।

प्रोसेस्ड मीट
शोधकर्ताओं का मानना है कि प्रोसेस्ड मीट को लंबे समय तक रखने के लिए नाइट्राइट नामक तत्व इस्तेमाल किया जाता है। जो आपके फेफड़ों में सूजन और तनाव पैदा कर सकता हैं। इस प्रोसेस्ड मीट में बेकन, हैम, डेली मांस, और सॉसेज आदि आते है।

शुगर वाली ड्रिंकयुवाओं में की गई एक रिसर्च के अनुसार सप्ताह में 5 से ज्यादा इस ड्रिंक्स का सेवन करने से लिवर पर बुरा असर पड़ता है। जिससे आप अस्थमा के शिकार हो सकते है। अगर आप स्मोकिंग करते हैं तो आपके लंग्स के लिए सॉफ्ट ड्रिंक बहुत खतरनाक हो सकती है।

डेयरी प्रोडक्ट्स का अधिक सेवन
डेयरी प्रोडक्ट्स जैसे दही, दूध, पनीर आदि का सेवन करना सेहत के लिए अच्छा है। इसके साथ ही यह लग्स को मजबूत रखने में मदद करता है, लेकिन इसका अधिक मात्रा में सेवन करने से आपको बलगम की समस्या हो सकती है। दरअसल दूध में कैसोमोर्फिन नामक तत्व पाया जाता है तो बलगम बनाने में मदद करता है।

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending