डायबिटीज पेशेंट्स को कोरोना काल में ब्लैक फंगस के अलावा रहता है इन बीमारियों का खतरा

चाहे कोरोना संकट हो या नहीं लेकिन डायबिटीज के मरीजों को इस समय पर अपना खास ख्याल रखने की बहुत जरूरत है। इस महामारी के समय शुगर पेशेंट्स को कोरोना न हो क्योंकि कोरोना वायरस यदि उन्हें होता है तो उनके लिए कई सारे जोखिम झेलने पड़ सकते हैं। एक फेर को ब्लैक फंगस यदि नहीं भी होता है तो रोग-प्रतिरोधक क्षमता कम होने के कारण से उन्हें और भी कई सारी परेशानियों का शिकार होना पड़ सकता है। ऐसे में अगर कोरोना की चपेट में आ जाते हैं तो फिर   कोशिश करें कि घबराएं नहीं और तुरंत डॉक्टर को दिखाए। तो चलिए जानते हैं डायबिटीज के मरीजों को कोरोना के दौरान किन-किन परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है।

1.सांस संबंधी परेशानी

कोरोना वायरस का खतरा डायबिटीज पेशेंट्स पर आम लोगों से ज्यादा है। दरअसल शुगर के मरीजों की रोग-प्रतिरोधक क्षमता पहले से नाजुक होती है। ऐसे में संक्रमण का शिकार हो जाने पर अचानक उन्हें सांस संबंधी परेशानी होने लगती है। इस दौरान सांस का फूलना,सांस लेने में तकलीफ, सीने में दर्द आदि समस्या एक साथ होना शुरू हो जाती है। जिससे की मरीज बहुत ज्यादा घबरा जाता है और स्थिति पूरी तरह से बिगड़ जाती है, इसलिए डायबिटीज के मरीज ध्यान रखें वे शुरू से ही अपनी रोग-प्रतिरोधक क्षमता पर ध्यान दें। 

2.कोविड निमोनिया का डर

बहुत सारे डायबिटीज मरीजों की मौत दूसरी लहर में इस वजह से भी हुई की उन्हें कोरोना के साथ-साथ निमोनिया भी हो गया था। विशेषज्ञों के मुताबिक टाइप- 2 के मरीजों के शरीर में संक्रमण काफी तेजी से फैल जाता है। जिससे फेफड़े बहुत जल्दी संक्रमित हो जाते हैं और सांस लेने में तकलीफ होती है। बता दें, निमोनिये के साथ फेफड़ों के संक्रमण को अचानक नियंत्रित करना सबसे ज्यादा कठिन काम है।

3.स्किन प्रॉब्लम  

कोरोना वायरस के समय शुगर के पेशेंट्स की त्वचा भी प्रभावित होती है। दरअसल त्वचा रोग इतना ज्यादा बढ़ जाता है कि जगह-जगह बड़े-बड़े घाव होने शुरू हो जाते हैं। इसके अलावा त्वचा के शुष्क होने पर लाल चकतों का पड़ना, पूरे शरीर में खुजली होने जैसी दिक्कत पैदा हो जाती है। ऐसे में  शरीर के अंगों पर जगह-जगह घाव होने पर मरीज को बहुत परेशानी होने लगती है और ये घाव जल्दी से नहीं भरते हैं। इसलिए कोरोना होने पर डायबिटीज के मरीज पानी का अधिक सेवन करें।

 4.ब्लैक फंगस संक्रमण 

ब्लैक फंगस संक्रमण का खतरा सबसे ज्यादा शुगर के मरीजों को होता है। ऐसे में डायबिटीज के मरीजों को इस बात अवश्य ध्यान रखना होगा कोरोना आपको चाह कर भी अपना शिकार नहीं बना पाए। वहीं, अगर कोरोना हो भी जाता है और लक्षण ज्यादा नहीं होते तब भी आपको इस बात का ध्यान रखना होगा की आपका ब्लड शुगर लेवल नियंत्रित रहे।

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending