अदालत ने राज कुंद्रा की जमानत याचिका की खारिज कहा- समाज को जाएगा गलत संदेश

मंगलवार को राज कुंद्रा की जमानत याचिका पर मुंबई की एक सेशंस कोर्ट सुनवाई टालते हुए 20 अगस्त को अगली सुनवाई की तारीख तय की है। दरअसल, पुलिस ने मंगलवार को हुई सुनवाई में कोर्ट से कहा है कि यह अपराध गंभीर प्रवृत्ति का है। अगर राज कुंद्रा को जमानत दी जाती है तो इससे समाज में एक गलत संदेश जाएगा।

सुनवाई के दौरान पुलिस ने राज कुंद्रा की जमानत याचिका का विरोध करते हुए अदालत से कहा कि अगर आरोपी को जमानत मिल जाती है, तो वह अश्लील वीडियो अपलोड करके इसी तरह के अपराध करना जारी रख सकता है। जिससे हमारी संस्कृति प्रभावित होगी और समाज में गलत संदेश जाएगा।

पुलिस अधिकारियों ने यह भी बताया कि राज कुंद्रा के पास ब्रिटिश नागरिकता भी है। जिससे वह आसानी से बाहर विदेश भाग सकता है। पुलिस ने यह भी कहा है कि राज कुंद्रा का इस मामले में आरोपी प्रदीप बख्‍शी से संबंध है। उसने प्रदीप से संपर्क करने और बाद में जांच से बचने की कोशिश भी की थी।

इस पूरे मामले में अगली सुनवाई के लिए कोर्ट ने 20 अगस्त की तारीख तय की है। इसके साथ ही मंगलवार को कोर्ट ने पिछले साल मुंबई पुलिस द्वारा पोर्न कंटेंट से संबंधित एक दर्ज मामले में राज कुंद्रा की अग्रिम जमानत याचिका भी खारिज कर दी है।

बता दें कि राज कुंद्रा को 19 जुलाई को गिरफ्तार किया गया था। उन्‍हें पहले 27 जुलाई तक पुलिस रिमांड पर रखा गया, जबकि किला कोर्ट (एस्प्लेनेड कोर्ट) ने बाद में उन्‍हें 14 दिनों की न्‍यायिक हिरासत में भेज दिया। राज कुंद्रा के साथ ही उनके IT हेड रायन थॉर्प की जमानत याचिका पर भी सुनवाई होनी थी। रायन की जमानत याचिका पर भी अब 20 अगस्त को ही फैसला आएगा।

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending