कोरोना अलर्ट: पेट से जुड़ी इन दिक्कतों को भूलकर भी नहीं करें अनदेखा, जानें बचाव का तरीका

कोविड-19 ने पूरी दुनिया की नाक में दम करके रख दिया है। भारत में कोरोना वायरस की पहली लहर से ज्यादा घातक नजर दूसरी लहर आई। यही नहीं दूसरी लहर में काफी संख्या में लोग इससे संक्रमित हुए, तो इस वायरस ने काफी लोगों की जान भी ली। दरअसल कोविड-19 सीधा फेफड़ों पर हमला करता है, जिसकी वजह से उसे सांस लेने जैसी दिक्कतें होती हैं और ये परेशानी बढ़ती चली जाती है।

बेशक कोरोना की दूसरी लहर ठंडी पड़ती हुई नजर आ रही है, मगर ऐसे में लापरवाह होने की जरूरत नहीं है क्योंकि ये वायरस लोगों के पेट पर हमला कर रहा है। तो आइये जानते हैं कि पेट से जुड़े वो कौन से लक्षण हैं, जिन्हें आपको नजरअंदाज नहीं करना है। दरअसल, कई सारे लोग कोरोना से ठीक होकर उन्हें पेट संबंधी दिक्कतें सामने आ रही हैं।

जब कोरोना वायरस व्यक्ति के शरीर में प्रवेश करता है तो इसके बाद पाचन तंत्र में मौजूद सभी स्वस्थ कोशिकाओं को नष्ट कर देता है। विशेषज्ञों के मुताबिक आधे से ज्यादा मरीज बीमारी के दौरान कम से कम एक गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल लक्षण से पीड़ित थे।

ये हैं गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल लक्षण:

1. भूख में कमी आना
2. गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल सूजन और रक्तस्त्राव
3. जी मिचलाना और दस्त लगना
4. एसिड रिफ्लक्स
5. पेट में ऐंठन होना।

इन बातों का रखें ध्यान और करें खुद का बचाव:-

1. ग्रैस्ट्रोइंटेस्टाइनल की परेशानी हल्के से विकराल रूप ले सकती हैं। इससे बचने के लिए पौष्टिक आहार लेना चाहिए।

2. कोरोना काल में अच्छी तरह से पका हुआ खाना खाएं। संतुलित आहार लेने के साथ खाद्य पदार्थ शामिल हों जो आपके शरीर को ठीक करने में मदद कर सके। 

3. खुद को हाइड्रेटेड रखने के लिए आप अपनी डाइट में प्रीबायोटिक्स और प्रोबायोटिक्स शामिल करें। ऐसा इसलिए क्योंकि प्रोबायोटिक्स अच्छे बैक्टीरिया होते हैं, जो आंत के स्वास्थ्य में सुधार करते हैं।

4. पेट संबंधी परेशानियों में ओआरएस का घोल ले सकते हैं, जो पाचन तंत्र में संतुलन वापस लाने में मदद करता है।

5. पेट में दिक्कत होने पर ऑयली फूड्स और प्रोसेस्ड खाने से बचें। इनके बदले प्रोटीन, कार्ब्स और फाइबर अपने आहार में शामिल कर सकते हैं।

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending