कोरोना से फेफड़ों पर पड़ता है असर, अपने Lungs को मजबूत रखने के लिए अपनाएं ये टिप्स

कोरोना से ठीक होने वाले मरीजों के लिए वायरस को मात देना कोई जंग जीतने जैसा होता है। यह मरीज के फेफड़ों के
अलावा अन्य अंगों को भी नुकसान करता है, जिसके वजह से उन्हें स्वस्थ होने के महीनों बाद भी कमजोरी, थकान
और सांस लेने में तकलीफ की समस्या बानी रहती है। हालांकि, विशेषज्ञों का कहना है कि कोविड से ठीक हो रहे मरीज
सही खानपान अपनाकर, व्यायाम को अपने दिनचर्या में शामिल करके और प्रदूषित वायु से दूर रहकर फेफड़ों की
मजबूती फिर से हासिल कर सकते हैं।

फास्टफूड और तैलीय पकवानों से दूर रहें

  • शरीर में ब्लड शुगर में वृद्धि के साथ ही आंत में बैक्टीरिया का संतुलन बिगड़ने लगता है। फास्टफूड व तैलीय चीजों
    को खाने से प्रतिरोधक क्षमता घटने लगता है, लिहाजा इनसे दूरी बनाकर रखें।
  • कोविड से ठीक होने के बाद आप एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर चीजें जैसे कि लहसुन, हल्दी और ग्रीन-टी का सेवन अधिक
    मात्रा में करें। फेफड़ों की कार्यक्षमता बढ़ाने के लिए खट्टे फल, गुड़ और काली मिर्च का भी सेवन जरूर करें।
  • अपने डाइट में टमाटर, चुकंदर, बादाम, ब्लूबेरी को भी शामिल करें। ये सभी चीजें ओमेगा-3 फैटी एसिड से भरपूर
    होने के वजह से फेफड़ों में सूजन की शिकायत दूर करती है और श्वास संक्रमण से भी बचाती है।

इनसे रहें हमेशा दूर
1.डाइटिंग 

  • डाइटिंग करने से शरीर जरूरी मिनरल और विटामिन से वंचित हो सकता है, इसलिए डायटिंग न करें। शरीर को
    संक्रमण से लड़ने के लिए और पुरानी मजबूती हासिल करने के लिए ये सभी पोषक तत्व प्रचुर मात्रा में खाएं।

2.धूम्रपान

  • तंबाकू के सेवन करने से फेफड़ों में मौजूद वायु नलिकाओं को बहुत नुकसान होता है जिससे श्वास प्रणाली वायरल
    संक्रमण के प्रति अधिक संवेदनशील हो जाता है।

श्वास क्रियाओं का अभ्यास फायदेमंद
-श्वास क्रियाओं के अभ्यास से फेफड़ों में खून और ऑक्सीजन का प्रवाह सही से प्रवाह होता है जिससे मांसपेशियां
हरकत में आजाती है और आप एनर्जेटिक महसूस करने लगते हैं।

  • यदि आप पेट के बल लेटकर गहरी सांस भरते हैं और छोड़ते हैं तो यह भी आपके लिए फायदेमंद है। इस प्राणायाम
    को करने से आपकी फेफड़ों की सेहत सुधरती है।

-यदि आपके शरीर में ऑक्सीजन के स्तर में उतार-चढ़ाव हो रहा है तो आप व्यायाम के लिए ‘रेस्पिरोमीटर’ का भी
सहारा ले सकते हैं।

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending