कंगना का विवादित बयान, महात्मा गांधी को बताया भगत सिंह का हत्यारा, कहा – चाहते तो बचा सकते थे भगत सिंह की जान

बॉलीवुड की मशहूर एक्ट्रेस कंगना रनौत के आजादी को भीख बताने वाले बयान के बाद से अब तक उन पर लगभग 40-50 से ज्यादा एफआईआर दर्ज हो चुकी है। इसके बावजूद भी कंगना की जुबान संभलने का नाम नहीं ले रही है। पिछले दिनों आजादी को भीख बताकर विवाद पैदा करने वाली कंगना ने आज एक और बड़ा बयान देकर लोगो मे आक्रोश पैदा करने का काम किया है। दरअसल, उन्होंने इस बार अपना विवादित बयान राष्ट्रपिता महात्मा गांधी और भगत सिंह को लेकर दिया है।

मंगलवार को अपने सोशल मीडिया के जरिए एक्ट्रेस ने एक न्यूज की कटिंग और दो लंबे मैसेज पोस्ट किए हैं। इनके जरिए एक बार फिर कंगना ने “भीख में मिली आजादी” वाले बयान पर अपना पक्ष रखा है। पहले मैसेज में कंगना ने लिखा है, “जो आजादी के लिए लड़े थे, उन्हें सत्ता के भूखे और चालाक लोगों ने अपने मालिकों के हवाले कर दिया था।

ये वही लोग थे, जिनमें उनका शोषण करने वालों से लड़ने या अपने गर्म खून को जलाने/उबालने का साहस नहीं था।”
कंगना रनौत ने आगे लिखा, “ये वो लोग हैं, जिन्होंने हमें सिखाया… कोई थप्पड़ मारे तो एक और थप्पड़ के लिए अपना दूसरा गाल दे दो और इस तरह मिलेगी आजादी…। ऐसा नहीं है कि किसी को आजादी ऐसे ही मिलती है, इस तरह केवल भीख मिलती है…।

इसलिए अपने हीरोज को बुद्धिमानी से चुनें।” वहीं अपनी एक दूसरी पोस्ट में कंगना ने लिखा, “गांधी ने कभी भी भगत सिंह या नेताजी का सपोर्ट नहीं किया। कई सबूत हैं, जो बताते हैं कि गांधीजी चाहते थे कि भगत सिंह को फांसी हो।”

कंगना ने कहा, “”आपको चुनना पड़ेगा कि आप किन्हें सपोर्ट करते हैं, क्योंकि इन सबको अपने दिमाग के एक ही बक्से में एक साथ रखना और इनकी जयंतियों पर शुभकामनाएं देना ही पर्याप्त नहीं है, वास्तव में ये चुप्पी बहुत गैर जिम्मेदाराना और सतही है। सभी को अपने इतिहास और नायकों के बारे में पता होना चाहिए।” बता दें इससे पहले कंगना ने एक समिट में भारत की आजादी को भीख बताया था। जिसके बाद देशभर में उनके खिलाफ विरोध-प्रदर्शन और एफआईआर भी की गई हैं। 

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending