सरकार द्वारा चित्रदुर्गा मंदिर को ढहा देने से नाराज हिंदू महासभा नेता का विवादास्पद बयान, कहा- हमने गांधी को नहीं बख्शा? फिर आप कौन हैं?

कर्नाटक के मेंगलुरु में हिंदू महासभा के एक नेता और उनके दो साथियों को उनके विवादित बयान के चलते गिरफ्तार कर लिया है। दरअसल बयान देने वाले हिंदू महासभा के नेता का नाम धर्मेंद्र है, जो मंगलूरू में एक प्रेस कांफ्रेंस कर रहे थे। यह प्रेस कांफ्रेंस यहां ढहाए गए अवैध धार्मिक ढांचों के संबंध में आयोजित की गई थी। इस दौरान धर्मेंद्र ने विवादास्पद बयान देते हुए कहा कि हिंदुओं की रक्षा के लिए हमने गांधी को भी नहीं बख्शा तो आप कौन है।

हिंदू महासभा के नेता धर्मेंद्र ने आगे कहा कि जब हमने हिंदुओं की रक्षा के लिए महात्मा गांधी को नहीं बख्शा तो तुम्हें क्या लगता है हम तुम्हें छोड़ देंगे। उन्होंने आगे कहा कि सरकार ने चित्रदुर्गा, दक्षिण कन्नड़ और मैसूर में मंदिरों को ढहा दिया है। कौन चला रहा है सरकार? धर्मेंद्र ने कहा कि मस्जिद और चर्च क्यों नहीं ढहाए जा रहे हैं, अगर हमारा संविधान समानता के अधिकार की बात करता है सिर्फ मंदिरों को क्यों निशाना बनाया जा रहा है। 

हिंदू महासभा के नेता धर्मेंद्र पर कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई को एक मंदिर गिराने पर धमकी देने का भी आरोप है। पत्रकारों से बातचीत के दौरान उन्होंने धमकी देते हुए कहा था, “हम इसकी (मंदिर गिराने की) अनुमति नहीं देंगे। हमने गांधी को नहीं बख्शा? फिर आप कौन हैं? यदि गांधीजी की हत्या हो सकती है तो क्या आपको लगता है कि हम आपके साथ ऐसा नहीं कर सकते?”

बता दें कि इस पूरे मामले में राज्य महासचिव धमेंद्र के साथ उनके दो सहयोगी पवित्रन और प्रेम पुलाली को गिरफ्तार कर लिया गया है। मेंगलुरु पुलिस ने उनके खिलाफ आईपीसी की धारा 120 बी (आपराधिक साजिश), 153 ए (धर्म, जाति, जन्म, स्थान, निवास, भागा के आधार पर विभिन्न समूहों के बीच दुश्मनी को बढ़ावा देना) सहित अन्य धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है।

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending