कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने मोदी सरकार से की मांग कहा, जम्मू कश्मीर का पूर्ण राज्य का दर्जा बहाल करें सरकार

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद ने अपने एक निजी साक्षात्कार के दौरान केंद्र सरकार से चुनाव से पहले जम्मू-कश्मीर का दर्जा बहाल करने की मांग की। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार चुनाव से पहले जम्मू-कश्मीर का दर्जा बहाल करने की राज्य की मुख्यधारा के राजनीतिक दलों की मांग को खारिज करने की भूल नही कर सकती।

पूर्व मुख्यमंत्री आजाद ने आगे कहा, पीएम मोदी के साथ हुई बैठक में सभी ने स्पष्ट कर दिया था कि जम्मू-कश्मीर को केंद्र शासित प्रदेश का दर्जा स्वीकार्य नहीं है। इसके लिए सभी नेताओं ने समर्थन दिया। 

बता दें कि गुलाम नबी आजाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ मुलाकात करने वाले जम्मू-कश्मीर के 14 सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल का हिस्सा रहे। आजाद के अलावा, तीन अन्य पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला, उमर अब्दुल्ला और महबूबा मुफ्ती भी बहुदलीय प्रतिनिधिमंडल का हिस्सा थे।आजाद ने कहा कि वार्ता प्रक्रिया केवल एक शुरुआत थी। अब केंद्र को राज्यवासियों में भरोसे की भावना कायम करनी होगी।

आजाद ने साक्षात्कार के दौरान आगे कहा कि मुझे लगता है कि चीजें अब बदल गई हैं। इस बैठक ने चिंताओं और मुद्दों को समझने का एक बड़ा अवसर दिया है। मुझे लगता है कि जिस तरह से प्रधानमंत्री ने कहा कि अतीत को भूल जाओ और हमें शांति लानी है और दिल्ली और जम्मू-कश्मीर के बीच विश्वास के नए पुलों का निर्माण करना है, यह बहुत महत्वपूर्ण है।

वहीं पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती ने भी मीडिया से बातचीत के दौरान कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा जम्मू-कश्मीर के मुख्यधारा के नेतृत्व के साथ शुरू की गई वार्ता प्रक्रिया को विश्वसनीय बनाने के लिए केंद्र शासित प्रदेश में उत्पीड़न और दमन का दौर खत्म किया जाना चाहिए। सरकार को ध्यान रखना चाहिए कि असहमति की आवाज कोई आपराधिक कृत्य नहीं है।

राज्य की पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि यहां के लोगों को पहले चैन से सांस लेने का अधिकार दें और आराम तो बाद में देखा जाएगा। गुरुवार को जम्मू-कश्मीर के 14 सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल के साथ प्रधानमंत्री की बैठक को उन्होंने पीड़ाओं को समाप्त करने की दिशा में एक तरीका बताया। उन्होंने स्पष्ट किया कि बातचीत की प्रक्रिया को विश्वसनीय बनाने की जिम्मेदारी केंद्र की है। उसे विश्वास बहाली के उपाय शुरू करने चाहिए।

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending