कांवड़ यात्रा पर सीएम योगी आदित्यनाथ ने जारी किए दिशा निर्देश, जानिए क्या है नई गाइडलाइंस

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने 25 जुलाई से शुरू होने वाली कांवड़ यात्रा (Kanwar yatra) को मंजूरी दे दी है। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस को देखते हुए संबंधित राज्य सरकारें भी बातचीत करके यात्रा के संबंध में आवश्यक दिशा-निर्देश जारी करें और कोरोना प्रोटोकॉल का पूरी तरह से पालन किया जाए।

सीएम योगी ने इस संबंध में अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश जारी करने को कहा है। इसका कारण यह है कि इस यात्रा में पड़ोसी उत्तराखंड और बिहार के लोग भी शामिल होते हैं। बता दें की पिछले साल, उत्तर प्रदेश सरकार ने महामारी को देखते हुए कांवड़ यात्रा पर रोक लगा दी थी। इधर उत्तराखंड सरकार पहले ही कांवड़ यात्रा रद्द कर चुकी है और हरिद्वार की सीमाओं में धारा 144 लग चुकी है।
राज्य के सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि राज्य के अधिकारियों को बिहार में अपने समकक्ष अधिकारियों से बात करनी चाहिए। क्योंकि दो राज्यों के भक्त इस यात्रा में शामिल होते हैं। इस यात्रा में कोरोना प्रोटोकॉल का उल्लंघन नहीं होना चाहिए।
एक अधिकारी के मुताबिक, मंदिर में 5 से अधिक लोगों को प्रवेश करने की इजाजत शायद नहीं दी जाएगी। सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क पहनना जरूरी होगा। यह कांवड़ यात्रा 25 जुलाई से शुरू होने वाली है। इसके साथ ही कांवड़ यात्रा के लिए गृह विभाग को एक गाइडलाइन जारी करने के लिए कहा गया है।  गौरतलब हो कि कांवड़ यात्रा हिंदू महीने के श्रावण महीने यानी जुलाई-अगस्त में होती है। लाखों शिव भक्त गंगा नदी में डुबकी लगाने के लिए हरिद्वार (Haridwar), गोमुख (Gaumukh) और गढ़मुक्तेश्वर (Garhmukhteshwar) जैसे स्थानों की यात्रा करते हैं और स्नान करने के बाद अपने बर्तनों में गंगा जल लेकर आते हैं। जिसे घरों, मंदिरों और शिवलिंग में उस जल से अभिषेक करते हैं।

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending