क्या दो मास्क पहनने से सचमुच बचा जा सकता है कोरोना से, जानिए क्या कहते है वैज्ञानिक

कोरोना वायरस से निपटने के लिए आए दिन सोशल मीडिया के जरिए नई नई बातें सामने आ रही हैं इसी बीच हाल ही में एक खबर सामने आई हैं कि दो मास्क पहनने से काफी हद तक कोरोना से बचा जा सकता है ।
दरअसल, हाल ही में हुए एक अध्ययन में पता चला है कि उचित ढंग से पहने हुए अच्छी फिटिंग वाले दो फेस मास्क सार्स-सीओवी2 के आकार के कणों से बचाने में दोगुने प्रभावी साबित होते हैं। यह वायरस को व्यक्ति की नाक, मुंह तक पहुंचने से रोकते हैं जिससे व्यक्ति संक्रमण की चपेट में नहीं आता।
अध्ययन के अनुसार दो मास्क पहनने से अधिक बचाव होने की वजह कपड़े की दो परतें नहीं बल्कि चेहरे का पूरी तरह से ढका होना है। ऐसा करने से चेहरे का कोई हिस्सा खुला नहीं छूटता और खराब फिटिंग वाले हिस्सों पर भी बचाव हो जाता है। 

कपड़े से बना मास्क 40 फीसदी कारगर:
अनुसंधानकर्ताओं ने तरह-तरह के मास्क पहनकर यह पता लगाया कि सांस लेने की जगह से इन कणों को दूर रखने में मास्क कितने प्रभावी हो पा रहे हैं।
वे इस निष्कर्ष पर पहुंचे कि चिकित्सा प्रक्रिया में इस्तेमाल होने वाला मास्क कोविड-19 के आकार के कणों को दूर रखने में 40-60 फीसदी कारगर होता है। कपड़े से बना मास्क 40 फीसदी कारगर होता है। वहीं दो मास्क, जिनमें सर्जिकल मास्क पहले पहना गया हो और उसके ऊपर कपड़े का मास्क पहना गया हो तो बचाव 20 फीसदी तक बढ़ जाता है।

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending