बीजेपी नेता ने दिया बड़ा बयान, कहा – अगर बीजेपी के कार्यकर्ता हो तो मिल जायेगी नौकरी, कांग्रेस ने किया पुरजोर विरोध

गुजरात के साबरकांठा जिले के हिम्मतनगर में एक कार्यक्रम के दौरान बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष सीआर पाटील ने एक विवादित बयान देकर एक नया विवाद खड़ा कर दिया है। दरअसल उन्होंने कहा है की बीजेपी कार्यकर्ता के बेटे को आसानी से नौकरी मिल जाती है, लेकिन जरूरी ये है कि वो बीजेपी का कार्यकर्ता हो। बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष सीआर पाटील के इस बयान का कांग्रेस ने पुरजोर विरोध करते हुए मोर्चा संभाल लिया है।

कांग्रेस ने बीजेपी पर साधा निशाना साधते हुए कहा है की क्या गुजरात सरकार बीजेपी की कंपनी है, जहां बीजेपी का कार्यकर्ता होना ही उम्मीदवार की योग्यता मानी जाती है। कांग्रेस नेता अर्जुन मोढवाडिया ने कहा कि सिर्फ बीजेपी के कार्यकर्ता होने के आधार पर नौकरी नहीं मिल सकती है। इससे प्रदेश के युवाओं और युवतियों के साथ धोखाधड़ी की घटना को अंजाम दिया जा रहा है।

साथ ही क्वॉलिफाइड युवाओं के साथ बड़ा अन्याय हो रहा है। कांग्रेस ने निशाना साधते हुए कहा कि मैं बीजेपी के कार्यकर्ताओं से निवेदन करता हूं कि अगर उनके परिवार में किसी के पास नौकरी नहीं है तो बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष सीआर पाटील को फोन जरूर करे। बता दें बीजेपी नेता सीआर पाटिल ने कहा था कि यदि बीजेपी की सरकार के हैं तो कार्यकर्ता को नौकरी न मिले ऐसा हो नही सकता है।

उन्होंने बताया कि प्रदेश में कई चुने गए प्रतिनिधी हैं। जो कई सरकारी नौकरियों बोर्ड के अध्य़क्ष हैं। सीआर पाटिल ने एक कार्यक्रम के दौरान कहा था कि, ” हमारे यहां जिला प्रभारी कानाबार थे। एक बार उन्होंने एक शख्स को ठंड में सुबह के समय जाते हुए रोका और उससे पूछा कि वह इतनी ठंड में कहा जा रहा है तो उसने बताया कि पेज कमिटी डिटेल्स में एंट्री करवाने के लिए जा रहा है।

इस पर उन्होंने बताया कि कानाबार ने मुझे फोन कर मुझसे मिलने के लिए कहा। इस दौरान उन्होंने उसे खाने पर बुलाया और फिर उसने मुझे फोन कर कहा कि मैं बीते 20 साल से बीजेपी पार्टी का कार्यकर्ता हूं। उसने बताया कि एक काम है मैं कहूं या नहीं? मेरे बटे की नौकरी नहीं लग रही है। इसके बाद ही उनके बेटे की नौकरी लग गई।”

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending