बड़ा फैसला!! अहमदाबाद में सड़कों किनारे ठेलों पर नॉनवेज खाने पर लगा प्रतिबंध, मुख्यमंत्री ने दिया स्पष्टीकरण

गुजरात के अहमदाबाद में सार्वजनिक सड़कों के किनारे ठेलों पर नॉनवेज खाने का सामान बेचने पर 16 नवंबर यानी आज से पूरी तरह प्रतिबंध लगा दिया गया है। यह प्रतिबंध अहमदाबाद म्युनिसिपल कॉर्पोरेशन (Ahmedabad Municipal Corporation) द्वारा लगाया गया है। गुजरात में इससे पहले भावनगर, जूनागढ़ , राजकोट और बड़ौदा म्युनिसिपल कॉर्पोरेशन ने धार्मिक स्थलों के आस-पास और सार्वजनिक मार्गों पर नॉनवेज व अंडे की दुकान नहीं लगाने के आदेश दिए गए थे।

इस दौरान मंगलवार को आणंद (anand) जिले के बंधनी गांव (Bandhani Village) में भाजपा के एक कार्यक्रम को संबोधित करने पहुंचे मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल (Bhupendra Patel) ने कहा की लोगो के अलग-अलग खान-पान की आदतों से कोई समस्या नहीं है लेकिन ‘गंदगी’ के साथ खाने-पीने की चीजें बेचने वाले या शहर की सड़कों पर ट्रैफिक (traffic) में बाधा डालने वाले रेहड़ी वालों पर कार्रवाई की जा सकती है।

उन्होंने कहा की, “कुछ लोग शाकाहारी (Vegetarian) खाना खाते हैं, कुछ लोग मांसाहारी (Non-vegetarian) खाना खाते हैं, भाजपा सरकार (BJP Govt) को इससे कोई समस्या नहीं है। हमारी एकमात्र चिंता यह है कि, खाने की गाड़ियों से बेचा जाने वाला खाना अस्वच्छ नहीं होना चाहिए।” सीएम ने कहा कि यदि स्थानीय निकाय सड़क यातायात में बाधा डालते हैं तो खाद्य गाड़ियां हटाने का निर्णय ले सकते हैं। 

मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल (Bhupendra Patel) ने कहा, “स्थानीय नगर निगम (local municipal corporation) या नगर पालिकाएँ खाद्य गाड़ियां हटाने का निर्णय लेती हैं। वे ऐसा कर सकते हैं यदि वे शहर की सड़कों पर यातायात को बाधित कर रहे हैं।” मुख्यमंत्री का यह स्पष्टीकरण स्थानीय भाजपा नेताओं द्वारा गुजरात के विभिन्न शहरों में सड़कों से मांसाहारी खाने की गाड़ियां हटाने की मांग की पृष्ठभूमि में आया है।

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending