बाइडन ने चीन को लेकर दिया बड़ा बयान, कहा – इंफ्रास्ट्रक्चर पर ज्यादा खर्च करने की जरूरत

अमेरिका की कमान अब नवनिर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडन के हाथ में है. बाइडन ने 22 दिन पहले अमेरिकी राष्ट्रपति पद की शपथ ली है और अब वे देश के प्रमुख मुद्दों पर अपना ध्यान केंद्रित कर रहे है.

इसी बीच राष्ट्रपति बाइडन ने चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग से फोन पर बातचीत की है जिसकी चर्चा दुनियाभर की मीडिया में हो रही है. साथ ही जो बाइडन ने अमेरिकी सीनेट के कुछ सदस्यों के साथ बैठक की है.

मिली जानकारी के मुताबिक बैठक के दौरान अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन ने चीन को लेकर कहा कि हम चीन की नीति पर नहीं चल सकते हैं क्योकि चीन हमारा बनाया भोजन खाना चाहता है.

flag12 5288957 280x183 m

यानी वो हमारा अधिकार हमसे छीनने की कोशिश करेगा. साथ ही इस दौरान बाइडन ने सीनेटरों से देश के इंफ्रास्ट्रक्चर को लेकर चर्चा करते हुए कहा कि हमे इंफ्रास्ट्रक्चर पर खर्च के मामले में तेजी दिखाने की जरूरत हैं क्योकि ऐस नहीं किया गया तो चीन अमेरिका पर भाड़ी पड़ेगा और हमसे आगे निकल जाएगा. बाइडन सीनेटरों के साथ मीटिंग में इंफ्रास्ट्रक्चर पर अधिक खर्च करने की वकालत करते दिखे.  

बाइडन और जिनपिंग के बीच क्या हुई बातचीत

जो बाइडन और शी जिनपिंग के बीच लगभग दो घंटे फोन पर बातचीत हुई. मिली जानकारी के मुताबिक दोनो नेताओं ने इस दौरान कई मुद्दे पर बातचीत की. इस दौरान बाइडन ने जिनपिंग के सामने कई ऐसे मुद्दे उठाए जिस पर बातचीत करने से चीन कतराता है. वहीं चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने कहा कि टकराव से दोनो देश को नुकसान होगा इसलिए हमे बीच का रास्ता ढूंढना जरूरी है.

गौरतलब है कि अमेरिका और चीन के बीच ट्रेड और अन्य कई मुद्दे को लेकर टकराव किसी से छिपा हुआ नहीं है. अमेरिका और चीन दोनों एक दूसरे को घेरने का कोई मौका नहीं छोड़ते और अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के बाद नवनिर्वाचित राष्ट्रपति डोनाल्ड भी इस बात की और इशारा कर चुके है कि चीन अमेरिका के लिए चुनौती बनता जा रहा है. 

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending