भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने दी कांग्रेस आलाकमान को नसीहत, कहा – पार्टी छोड़ रहे नेताओं को लेकर पार्टी को आत्ममंथन की आवश्यकता

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने पंजाब में मचे सियासत घमासान के बीच पार्टी छोड़ रहे नेताओ को लेकर अपनी चिंता जाहिर की है। उन्होंने कहा है की कांग्रेस आलाकमान को इन सभी विषयों पर सोचने और आत्ममंथन करने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा की पार्टी के अंदर इस कदर टूट फूट राष्ट्रीय हित के लिए अच्छा नहीं है। हुड्डा ने आगे कहा, ‘ऐसी चीज़ें क्यों हो रही हैं? पार्टी को मंथन करना चाहिए। इन चीजों का समाधान तलाने के लिए कोशिश की जानी चाहिए।’

पार्टी छोड़ रहे नेताओं पर हुड्डा ने कहा कि यह सिर्फ पंजाब में ही नहीं हुआ है, बल्कि गोवा में भी हुआ है जहां एक वरिष्ठ नेता ने पार्टी छोड़ दी है। हुड्डा ने एक समाचार चैनल से कहा, ‘मैं अपनी पार्टी के भविष्य को लेकर बहुत चिंतित हूं। कांग्रेस का कमजोर होना राष्ट्रीय हित में नहीं है।’ गोवा के पूर्व मुख्यमंत्री लुई जिन्हो फालेयरो ने हाल में कांग्रेस छोड़ दी थी और बुधवार को तृणमूल कांग्रेस में शामिल हो गए हैं। 

भूपेंद्र हुड्डा ने कहा कि कुछ वरिष्ठ नेताओं समेत कई अन्य ने पार्टी छोड़ी है। हुड्डा ने कहा कि यह कांग्रेस की संस्कृति नहीं है। उन्होंने कहा कि अगर किसी का अलग नजरिया है तो उसे सामने लाना चाहिए एवं पार्टी के मंच पर उसपर चर्चा की जानी चाहिए। गौरतलब है की कांग्रेस नेता भूपेंद्र सिंह हुड्डा का ये बयान पंजाब के पूर्व सीएम अमरिंदर सिंह के कांग्रेस छोड़ने की अटकलों के बाद आया है। वहीं सिद्धू के इस्तीफे राज्य के कई मंत्रियों और नेताओं ने अपना पद छोड़ दिया था। 

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending