क्या गोलगप्पे/ पानीपुरी खाने के भी हैं कोई लाभ? जानिए

गोलगप्पों (पानीपुरी) इसका नाम ही काफी है भूख बढ़ाने के लिए इसका नाम सुनते ही हर किसी के मुंह में पानी आ ही जाता है। हालांकि कई लोगों को यह नहीं मालूम होगा की स्वादिष्ट लगने वाली इस पानीपूरी के अपने ही फायदे भी है। पानीपुरी के स्वाद में पानी की अहम भूमिका होती है। पानीपुरी का पानी जितना स्वादिष्ट होता है उतना ही सेहत के लिए अच्छा भी। जिससे की कई लोग अनजान हैं। लोग पानीपूरी तो खाते रहते है, लेकिन इसके फायदे कभी नहीं जानते। तो आज हम आपको बताएंगे कि पानीपुरी का पानी सेहत के लिए कैसे फायदेमंद है। 

पानीपुरी को कई स्थानीय नामों से पुकारा जाता है
पानीपुरी अथवा गोलगप्पे को छत्तीसगढ़ में गोपचोप, हरियाणा मे पताशे, बतासा, उत्तरप्रदेश में फुलकी और बंगाल में पुचका, फुल्का, गुजरात में पकौड़ी, मध्य प्रदेश में टिक्की और महाराष्ट्र में पानीपुरी के नाम से भी जाना जाता है।

पानीपुरी के पानी के फायदे:-
पानीपूरी का पानी पुदीने के पत्ते, धनिया, मिर्च, जीरा, हींग, मिर्च, केसर और नींबू के मिश्रण से बनाया जाता है। इन सभी के अपने-अपने औषधीय गुण हैं। जो पेट से संबंधित कई बीमारियों से छुटकारा दिलाते है और पाचन तंत्र को मजबूत करते है। 

आइए आपको बताते हैं कि पानीपुरी/गोलगप्पे किस तरह से आपके स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद साबित हो सकते हैं:-
थकान दूर होती है- मूड खराबब होने पर आप गोलगप्पे खा सकते हैं। ऐसा करने से आपका मूड भी अच्छा होता है और साथ ही आपकी थकान भी दूर होती है।
एसिडिटी करे कम- कई बार ठीक से खाना ना पचने या यात्रा करते समय लोगों को बहुत अधिक उल्टी की समस्या होती है। ऐसे में पानी पुरी खाने से आराम मिलता है। दरअसल, पानी पुरी में काला नमक होता है जो पेट की गैस, बदहजमी और ब्लोटिंग से आराम दिलाता है।
माउथ अल्सर से दिलाए राहत- पेट से जुड़ी परेशानियों के चलते जिन लोगों को बार-बार माउथ अल्सर यानि मुंह के छाले हो जाते हैं। उन्हें पानी-पुरी का सेवन करने से फायदा होता है। गोल गप्पे के पानी में पुदीना की चटनी, इमली का पल्प और जलजीरा पाउडर मिलाया जाता है। ये सारी चीज़ें पेट की समस्याएं कम करती हैं। जिससे, नैचुरली मुंह के छालों की समस्या कम होती है।
वजन घटाने के लिए मददगार- गोलगप्‍पे बनाने के लिए सूजी या आटे की जगह होल वीट आटे का इस्‍तेमाल किया जाए, तो इसमें शरीर का फायदा ही है। इसे प्रोटीन युक्त बनाने के लिए आलू की बजाय उबले हुए चने का इस्तेमाल करें। पानी की जगह आप घर में जमाई गई दही का भी इस्तेमाल कर सकते है। यह आपको ज्‍यादा कैलोरी बर्न करने में मदद करेगा। चटनी के साथ कुछ सलाद भी एड किया जा सकता है। इस तरह से गोलगप्पे से आपको वजन घटाने में भी मदद मिलेगी।

गुजरात के वडोदरा शहर में लोग अब इसे नहीं खा पाएंगे, क्‍योंकि यहां नगर निगम ने साफ-सफाई का हवाला देते हुए इस पर प्रतिबंध लगा दिया है। उनके अनुसार यह इतनी भयंकर बीमारी दे सकती है कि आप सहन नहीं कर पाएंगे। वहीं उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर में एक परिवार गोलगप्पे खाने गया। इस दौरान पानी पूरी सेंटर पर सभी लोगों की तबीयत खराब हो गई। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, पूरा परिवार फूड प्वॉइजनिंग का शिकार हो गया था। ज्यादा गोलगप्पे खाने से कई किस्म के नुकसान हो सकते हैं। जैसे डायरिया, डिहाइड्रेशन, उल्टी, दस्त और पीलिया जैसी बीमारियां.. वहीं, अगर आप रोजाना गोलगप्पे का सेवन कर रहे हैं, तो पाचन क्रिया में खराबी, आंतों में सूजन और अल्सर जैसी बीमारियां भी हो सकती हैं।

ज्यादा गोलगप्पे खाने से कई किस्म के नुकसान हो सकते हैं जैसे:-
• अल्सर• डायरिया• डिहाइड्रेशन• उल्टी, दस्त • आंतों में सूजन• पाचन क्रिया में खराबी

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending