सेहत के लिए फायदेमंद है सेब के छिलके, कचरा समझकर फेंकने की भूल न करें, जानिए क्यों

सेब के छिलके विटामिन, खनिज और एंटीऑक्सीडेंट का अच्छा स्रोत है। इनकी मदद से स्किन की तमाम समस्याओं को दूर किया जा सकता है और बीमार स्किन को हेल्दी, शाइनी और ग्लोइंग बनाया जा सकता है। ज्यादातर फल और सब्जियों की ही तरह सेब का छिलका भी बेहद पौष्टिक होता है और अगर सेब को छील दिया जाए तो उसके छिलके में मौजूद फाइबर, विटामिन, मिनरल्स और एंटीऑक्सिडेंट्स की मात्रा भी कम हो जाती है। 
लेकिन क्या आप भी उन लोगों में से हैं जो सेब के छिलके को हटाकर यानी सेब को छीलकर खाते हैं तो आज हम आपको सेब के छिलकों के फायदे, जिसके बाद आप सेब को हमेशा छिलके समेत ही खाना चाहेंगे।

सेब के छिलके में मौजूद पोषक तत्व
एक सेब के अंदर 116 कैलोरी, 30.8 ग्राम कार्बोहाइड्रेट, 0.38 ग्राम फैट, 0.58 ग्राम प्रोटीन और 5.4 ग्राम फाइबर होता है। जबकि छिलके वाले सेब में छीले हुए सेब की तुलना में 332 प्रतिशत अधिक विटामिन के, 142 प्रतिशत अधिक विटामिन ए, 115 प्रतिशत अधिक विटामिन सी, 20 प्रतिशत अधिक कैल्शियम और 19 प्रतिशत तक अधिक पोटैशियम पाया जाता है। 
बिना छिलके वाले 1 बड़े सेब में निम्नलिखित पोषक तत्व होते हैं:
कैलोरी- 104
कार्बोहाइड्रेट- 27 ग्राम
फैट- 0.28 ग्राम
प्रोटीन- 0.58 ग्राम

सेब के छिलकों के गजब के फायदे:-

फेफड़ों और दिल के रोगों से बचाने में सहायक
सेब के छिलके में क्वार्सेटिन नामक एक शक्तिशाली यौगिक पाया जाता है, जिसे एंटी-इंफलामेटरी के रूप में जाना जाता है, यह आपके फेफड़ों और दिल को विभिन्न रोगों से बचाता है।

टाइप 2 डायबिटीज के खतरे से बचाता है 
सेब और इसके छिलकों में पाया जाने वाला फ्लैवनॉयड्स टाइप 2 डायबिटीज की बीमारी से भी बचाने में मदद करता है। रोजाना एक सेब खाने से टाइप 2 डायबिटीज होने का खतरा काफी कम हो जाता है।

हृदय रोग के खतरे को कम करता है 
सेब के छिलके में विभिन्न एंटीऑक्सिडेंट्स पाए जाते हैं जो शरीर में पॉलिअनसैचुरेटेड फैट के ऑक्सिकरण की प्रक्रिया को रोकते हैं। इन फैट्स के ऑक्सिकरण की वजह से ही हृदय रोग का खतरा हो सकता है। लिहाजा सेब को अगर छिलके के साथ खाया जाए तो आपका हार्ट हेल्दी रहता है और हृदय रोग होने के जोखिम को भी कम किया जा सकता है।

प्रोस्टेट कैंसर से बचाता है सेब का छिलका 
सेब के छिलके में उरसॉलिक एसिड (ursolic acid) होता है जो प्रोस्टेट कैंसर कोशिकाओं के विकास को रोक सकता है। इसके अलावा सेब के छिलके में ट्रिटरपेनॉयड नाम का कम्पाउंड भी पाया जाता है जो कैंसर पैदा करने वाले हानिकारक सेल्स से लड़ने में मदद करता है। लिहाजा सेब का छिलका ब्रेस्ट कैंसर, कोलोन कैंसर और लिवर कैंसर जैसी समस्याओं को भी दूर रखने में मदद करता है।

एनीमिया में भी फायदेमंद सेब का छिलका 
सेब के छिलके में आयरन भी भरपूर मात्रा में पाया जाता है और इस वजह से एनीमिया के मरीजों के लिए काफी हेल्दी विकल्प हो सकता है। आयरन के अलावा सेब के छिलके में फोलिक एसिड या फोलेट भी पाया जाता है सेब में पाया जाने वाला आयरन और कैल्शियम हड्डियों को भी मजबूत बनाने में मदद करता है।

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending