अमेरिकी वैज्ञानिकों ने विकसित की हाइड्रोजेल टैबलेट, जो पानी को 99.9 फीसदी तक बनाएगी बैक्टीरिया मुक्त

दुनिया भर में हो रही पानी की किल्लत के बीच अमेरिकी वैज्ञानिकों ने एक खास तरह की हाइड्रोजेल टैबलेट तैयार की है। वैज्ञानिकों का दावा है की यह टैबलेट नदियों-तालाबों के पानी को एक घंटे में अंदर पीने लायक बना देगी। यह टैबलेट पानी 99.9 फीसदी तक बैक्टीरियामुक्त बना देती है। उन्होंने इस टैबलेट का एक प्रोटोटाइप तैयार किया है।

अमेरिका की टेक्सास यूनिवर्सिटी के वैज्ञानिकों ने यह टैबलेट बनाकर तैयार किया है। वैज्ञानिकों का कहना है की, आमतौर पर पानी को बैक्टीरियामुक्त बनाने के लिए उबालकर पिया जाता है। इसमें समय और एनर्जी दोनों लगती है, लेकिन नई हाइड्रोजेल टैबलेट से पानी को पीने लायक बनाना आसान है।

शोधकर्ता गुइहुआ यू कहते हैं, दुनियाभर में साफ पानी की किल्लत को कम करने में हाइड्रोजल टैबलेट गेमचेंजर साबित होगी। यह बड़ा बदलाव लाएगी क्योंकि इसे इस्तेमाल करना सबसे आसान है। इसके अलावा यह भी पता लगाया जा रहा है कि कैसे इसे बेहतर बनाकर अलग-अलग तरह के बैक्टीरिया के साथ वायरस को भी खत्म कर सकते हैं।

वैज्ञानिकों का दावा है, नदी या तालाब के पानी से भरे कंटेनर में इस हाइड्रोजेल टैबलेट को डालना होगा। जिसके एक घंटे के बाद पानी 99.9 फीसदी तक बैक्टीरिया मुक्त हो जाएगा। एक घंटे बाद इस टैबलेट को पानी से निकाल सकते हैं। पानी में किसी तरह का केमिकल नहीं मौजूद रहेगा।

शोधकर्ताओं का कहना है, पानी में पहुंचने के बाद यह टैबलेट हाइड्रोजन परॉक्साइड जेनरेट करती है। जो कार्बन पार्टिकल के साथ मिलकर बैक्टीरिया को खत्म करता है।रिसर्च में यह दावा किया गया है कि इससे पानी में कोई भी ऐसा केमिकल या बाय प्रोडक्ट नहीं बनता जो इंसान को नुकसान पहुंचाए। यह पानी बिना किसी डर के पिया जा सकता है।

शोधकर्ताओं का कहना है, रिसर्च में हाइड्रोजेल तकनीक का प्रयोग अभी छोटे स्तर पर किया गया है, लेकिन इसे बड़े पैमाने पर इस्तेमाल किया जा सकेगा। यह पानी को साफ करने का सस्ता और आसान तरीका है। हर तरह के कंटेनर के लिए इस तकनीक का इस्तेमाल करना आसान होगा।

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending