कोरोना वैक्सीन लगने के कितने दिनों बाद रक्तदान करना होता है सेफ ?

पिछले कई दिनों लोगों में प्लाजमा डोनेशन को लेकर चिंता थी,क्योंकि उन्हें वक्त रहते प्लाजमा उपलब्ध नहीं हो पा रहा था,जिससे कई लोगों ने दम तोड़ दिया। इसके अलावा कोरोना काल में सबसे ज्यादा परेशानी रक्तदान की भी देखने को मिली। जी हां यही नहीं कोरोना संकट के बीच लोग रक्तदान को लेकर बहुत हिचकने लगने हैं, वैक्सीन लगने के बाद तो लोग रक्तदान को लेकर और भी संशय में आने लगे हैं। बहुत से ऐसे लोग जिन्हें लगता है कि वैक्सीन लगने के बाद यदि रक्तदान किया गया तो शरीर और भी कमजोर हो जाएगा। अगर आप भी इन्हीं में से एक हैं तो यहां जान लीजिये वैक्सीन लगने के बाद रक्तदान कितना सुरक्षित है। 

दरअसल डॉक्टर का कहना है बहुत से ऐसे लोग जो अभी भी कोरोना की मार को भूले नहीं है और ये लोग वैक्सीन लगने के बाद खुद ही ऐसा सोच लिया है और इसी कारण से वो रक्तदान करने में डर रहे हैं। ज्यादातर लोगों को ऐसा लग रहा है कोरोना टीकाकरण कराने के बाद अगर ब्लड डोनेट किया तो उनके शरीर की एंटीबॉडी कम हो जाएगी। कई बार वे ये सोच लेते हैं कि उनके खून से कहीं मरीज को कोई समस्या न हो जाए। 

 बता दें जो लोग कोरोना वैक्सीन की दोनों डोज ले चुकें है और अब वह पूरी तरह से स्वस्थ हैं, वे दो सप्ताह बाद रक्तदान कर सकते हैं। क्योंकि आपके रक्त से मरीज को कोई हानि नहीं होगी। लेकिन याद रखें अगर आपको कोई बीमारी है या फिर शरीर में कमजोरी, बुखार या अन्य कोई लक्षण महसूस कर रहे हैं तो आप उस समय रक्तदान न ही करें। जब आप स्वस्थ महसूस करें, तभी रक्तदान करें। इसके अलावा कोरोना की पहली डोज लेने के बाद भी रक्तदान न करें। 

ऐसे लोग नहीं करने रक्तदान

कोरोना काल में ब्लड डोनेट करने से एक बार डॉक्टर से बात करें और उन्हें वैक्सीन का नाम, तारीख आदि के बारे में सब बताएं। टीकाकरण करने के बाद भी आपको कोई दिक्कत हो रही है तो रक्तदान भूल से भी नहीं करें। कोरोना का पहला डोज ले लिया और बच्चे को दूध पिलाते हैं, गर्भवती हैं तो भी रक्तदान करने से बचें। इसके अलावा किसी कोई एंटी-बायोटिक का सेवन कर रहे हैं तब भी रक्तदान न करें क्योंकि इसका असर मरीज की सेहत पर पड़ सकता है। 

रक्तदान करते हुए रखें इन बातों का ध्यान

-रक्तदान से कोई चिंता करने वाली बात नहीं होती।
-वैक्सीन लगने के बाद आराम से ब्लड डोनेट करें,लेकिन कोरोना महामारी में यह बात याद रखनी रखनी बेहद जरूरी है रक्तदान के लिए जब जाएं तो मास्क लगाएं, सैनिटाइजर साथ रखें।
-कोरोना वैक्सीन का पहला डोज लेने से पहले खून दे सकते हैं, लेकिन बाद में दूसरी डोज लगने तक रक्तदान नहीं करें। 

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending