आप नेता संजय सिंह ने बीजेपी पर साधा निशाना कहा- बीजेपी की आस्था भ्रष्टाचारियों में हैं श्री राम में नहीं

राम मंदिर निर्माण में जमीन के कथित घोटाले को लेकर आम आदमी पार्टी नेता संजय सिंह आजाद अब कोर्ट जाने की धमकी दे रहे हैं। राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने बुधवार को ट्वीट कर कहा कि उन्होंने जब से भूमि घोटाले का खुलासा किया है तभी से वह इंतजार कर रहे थे कि भाजपा एक्शन ले। लेकिन 3 दिन बीतने के बाद अब वह कोर्ट जाने की तैयारी कर रहे हैं। संजय सिंह ने आगे कहा की, “मैंने अयोध्या राम मंदिर निर्माण के संबंध में घोटाले का खुलासा किया। इसके बाद केंद्र सरकार और भाजपा के कार्रवाई करने के लिए 3 दिनों तक इंतजार किया, लेकिन अब मैं समझ गया हूँ कि बीजेपी की आस्था प्रॉपर्टी डीलरों/भ्रष्टाचारियों में हैं, भगवान राम में नहीं। मैं इस मामले को अदालत में ले जाने की तैयारी कर रहा हूँ।”
आप नेता संजय सिंह ने बीजेपी पर हमला बोलते हुए आगे कहा, “बीजेपी को पूरी दुनिया में रहने वाले हिंदुओं से हाथ जोड़कर माफी माँगनी चाहिए। रवि मोहन तिवारी और सुल्तान अंसारी के अकाउंट की जाँच की जाए। ये पैसा कहाँ-कहाँ गया, उसकी जाँच की जाए। बीजेपी का एक प्रवक्ता संबित पात्रा चंदा चोरी करने वाले के पक्ष में खड़ा हो जाएगा।” इसके अलावा बुधवार को हुई प्रेस कॉन्फ्रेंस में संजय सिंह ने दावा किया कि इस एग्रीमेंट का जिक्र ये लोग बार-बार करते हैं, दरअसल वह एग्रीमेंट 18 मार्च 2021 को कैंसिल हो चुका है और भाजपा बस चंदा चोरों को बचाने में लगी है। प्रभु श्री राम के भव्य मंदिर निर्माण में अगर कोई बाधा डाल रहा है तो ये चंदा चोर। 
गौरतलब है कि AAP नेता संजय सिंह द्वारा श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट से संबंधित एक भूमि सौदे में भ्रष्टाचार का आरोप लगाने के बाद ट्रस्ट ने पूरे मामले पर अपना स्पष्टीकरण जारी किया था। उनका आरोप है कि ट्रस्ट ने 2 करोड़ की जमीन 18.5 करोड़ में खरीदी थी। उनका दावा है कि दोनों लेन-देन 5 मिनट के भीतर किए गए थे और राम मंदिर ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय के इशारे पर हुए थे। वहीं राम जन्मभूमि ट्रस्ट ने स्पष्टीकरण जारी कर अपने ऊपर लगाए जा रहे निराधार आरोपों को खारिज किया।
ट्रस्ट ने अपने ट्विटर हैंडल के माध्यम से भूमि सौदे का विवरण साझा किया।ट्रस्ट ने सूचित किया कि यह भूमि एक सड़क से सटी हुई है, जिसे भविष्य में श्रीराम जन्मभूमि मंदिर के पास आने वाले 4-लेन के रास्ते में बनाया जाएगा, जिससे यह एक प्रमुख भूमि बन जाएगी। 1.2080 हेक्टेयर जमीन 1423 रुपए प्रति वर्ग फुट की दर से खरीदी गई है, ट्रस्ट का कहना है कि जो बाजार के भाव से काफी कम है।

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending