इन गंभीर समस्याओं से बचाने में मददगार है एक गिलास छाछ, मिलेंगे जबरदस्त फायदे

गर्मी से राहत पाने के लिए लगभग हर किसी को ठंडा पीना पसंद होता हैं। वैसे इस बात में कोई शक नहीं गर्मी के मौसम को आसानी से एक गिलास छाछ के सहारे से निकाला जा सकता है। छाछ पीने के कई सारे स्वास्थ्य लाभ होते हैं इसलिए प्रतिदिन एक गिलास छाछ का सेवन जरूर से करना चाहिए। प्राचीन ग्रंथों में भी स्वास्थ्य की दृष्टि से छाछ का सेवन बहुत लाभकारी बताया है। खास बात अब ज्यादातर लोग छाछ का स्वाद दोगुना करने के लिए इसमें पिसा हुआ जीरा, काला नमक आदि मसाले डालकर इसको बनाते हैं। इन सभी चीजों को डालने से पेट संबंधी तकलीफ में छाछ और भी गुणकारी साबित होती है। आइये आपको बताते हैं छाछ के सेवन से होने वाले फायदों के बारे में। 

1. दूर होगी डिहाइड्रेशन की समस्या

गर्मियों के दिनों में बॉडी में पानी की कमी सबसे ज्यादा देखने को मिलती है। शरीर में पानी के कमी होने पर कभी-कभी ज्यादा मुसीबतें झेलनी पड़ जाती है। ऐसे में शरीर थकने लगता है, बेचैनी और जी मालचाना आदि परेशानियां होने लगती हैं। इन सभी परेशानियों से निजात पाने के लिए आपको नियमित रूप से इस मौसम में एक गिलास छाछ का सेवन जरूर करें। आपका शरीर चुस्ती- फुर्ती से भरपूर रहेगा। 

2. रक्तचाप को करे नियंत्रित

छाछ में मौजूद विशेष प्रोटीन रक्तचाप को कंट्रोल करने में मदद करता है। ऐसे में रक्तचाप के मरीजों के लिए भी छाछ पीना बेहतर होता है क्योंकि इसमें बायोएक्टिव प्रोटीन पाया जाता है। मगर उच्च रक्तचाप का शिकार हुए रोगियों को इस बात का विशेष ध्यान रखना चाहिए कि छाछ में नमक डालकर उन्हें नहीं पीनी है और नियमित रूप से ताजी छाछ ही पिएं। इसके अलावा छाछ में पानी मिलाकर पीने से रक्तचाप के मरीजों को जल्दी फायदा होता है। 

3. पेट की दिक्कत

छाछ पेट में ठंडक पहुंचने का काम करती है। पेट से जुड़ी हर एक तकलीफ का रामबाण इलाज है छाछ। एसिडिटी होने पर इसका सेवन जरूर करें। छाछ का सेवन करने से आपको किसी प्रकार की कोई परेशानी नहीं होगी। गर्मियों में खाने के बाद छाछ का रोजाना सेवन करने से कई स्वास्थ्य लाभ होंगे। याद रहे गर्मी में यदि तला हुआ या मसालेदार भोजन खाने में आ गया है तो छाछ का सेवन जरूर करें।

4.रोग-प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाए

गर्मियों में शरीर को तरोताजा रखने वाली छाछ में लैक्टिक एसिड बैक्टीरिया पाया जाता है जो कि बुरे जीवाणुओं से लड़कर उन्हें खत्म करने का काम करती है। मधुमेह से जूझ रही महिला मरीजों में कैंडिडा संक्रमण पाया जाता है जिसे कि छाछ के सेवन से दूर किया जा सकता है। छाछ के नियमित सेवन से रोग-प्रतिरोधाक क्षमता बढ़ने लगती है। छाछ पीकर शरीर को पूरी तरह से स्वस्थ रखा जा सकता है। 

नोट: यह लेख सिर्फ आपकी सामान्य जानकारी प्रदान करती है। ये किसी योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। इसलिए ध्यान रहे इन पर अमल करने से पहले किसी विशेषज्ञ या अपने डॉक्टर की सलाह एक बार अवश्य लें।  

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending