88 वर्षीय पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की बिगड़ी तबीयत, एम्स में हुए भर्ती

88 साल के कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह की तबीयत अचानक बिगड़ गई है। उन्हें बुखार और कमजोरी की शिकायत के बाद दिल्ली एम्स अस्पताल में भर्ती कराया गया है। हालांकि डॉक्टर्स ने उनकी हालत में अभी सुधार बताया है। बता दें मनमोहन सिंह फिलहाल राजस्थान से राज्यसभा सदस्य हैं। वह 2004 से 2014 तक देश के प्रधानमंत्री रहे है।

मनमोहन की जांच के लिए दिल्ली AIIMS में एक मेडिकल बोर्ड का गठन किया गया है। इसे वहां के डायरेक्टर रणदीप गुलेरिया हेड कर रहे हैं। डॉक्टरों ने बताया कि उनकी हालत अभी स्थिर है। उन्हें बुखार की वजह से भर्ती कराया गया है। डॉ. सिंह का इलाज AIIMS के कार्डियो न्यूरो टावर में किया जा रहा है।

इससे पहले अखिल भारतीय कांग्रेस समिति के मीडिया प्रकोष्ठ सूत्र ने बताया कि डॉक्टर मनमोहन सिंह को पिछले दो दिन से हल्का बुखार था। उन्हें बेहतर चिकित्सा देखभाल के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

बता दें डॉ. मनमोहन सिंह को शुगर की भी बीमारी है। उनकी दो बाईपास सर्जरी भी हो चुकी है। पहली सर्जरी 1990 में ब्रिटेन में हुई थी, जबकि 2009 में एम्स में उनकी दूसरी बाईपास सर्जरी की गई थी। पिछले साल एक दवा के रिएक्शन और बुखार होने के बाद भी मनमोहन सिंह को एम्स में भर्ती कराया गया था।

अप्रैल में हुआ था कोरोना

मनमोहन सिंह इस साल 19 अप्रैल को कोरोना वायरस से भी संक्रमित हो गए थे। उन्हें एम्स में भर्ती कराया गया था। 10 दिन के बाद उन्हें अस्पताल से छुट्‌टी मिली थी। खास बात ये थी कि पूर्व PM भारत बायोटेक की कोवैक्सिन की दोनों डोज ले चुके थे।

उन्हें पहला शॉट 3 मार्च और दूसरा डोज 4 अप्रैल को दिया गया था। उस समय भी वे डॉक्टर नीतीश नायक की देखरेख में थे। बता दें मनमोहन सिंह पहली बार 1971 में वाणिज्य मंत्रालय में आर्थिक सलाहकार के रूप में भारत सरकार में शामिल हुए। बाद में उन्होंने 1991 से 1996 तक भारत के वित्त मंत्री के रूप में कार्य किया और 2004 में देश के 14वें प्रधानमंत्री बने। वर्तमान में वह राज्यसभा के सदस्य हैं।

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending