बरेली :16000 पुलिसकर्मियों की निगरानी में होंगे पंचायत चुनाव

बरेली में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव का प्रचार इस समय थम चुका है त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में कई प्रत्याशी जिनमें जिला पंचायत सदस्य, प्रधान पद और बीडीसी के प्रत्याशी अपना दमखम दिखाएंगे कोविड-19 दौर में यह पंचायत चुनाव उत्तर प्रदेश सरकार के लिए काफी चुनौतीपूर्ण रहेगा क्योंकि जगह-जगह कोरोना संक्रमण का खतरा बढ़ता जा रहा है जिसमें कई अधिकारी और कई पुलिसकर्मी भी संक्रमित पाए गए हैं आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव चार चरणों में हो रहे हैं वही बरेली में एडीजी अविनाश चंद्र ने पंचायत चुनाव को लेकर पुलिस लाइन में बैठक ली जिसमें शामिल होने वाले पीआरडी जवान, होमगार्ड शामिल रहे

 उत्तर प्रदेश में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव का प्रथम चरण का प्रचार थम गया है बरेली में सभी वार्डो पर 15 तारीख को मतदान होना है जिसको लेकर एडीजी अविनाश चंद्र ने बरेली पुलिस लाइन में बैठक ली इसमें चुनावों को लेकर मुख्य चर्चा की गई मैं होमगार्ड और पीआरडी जवानों को आईडी कार्ड वितरित किए गए त्रिस्तरीय पंचायत चुनावों में सबसे अहम मुद्दा कोरोनावायरस का रहा यह एक बड़ी चुनौती उभर कर सामने आएगी.जिसको लेकर पुलिस प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग अपनी पूरी तैयारी में है त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में किसी प्रकार की अव्यवस्था ना फैले इसको लेकर 16 हजार से ज्यादा जवान पोलिंग बूथों पर तैनात रहेंगे और सकुशल चुनाव कराएंगे एडीजी अविनाश चंद्र के मुताबिक जो गांव सबसे ज्यादा संवेदनशील हैं वहां अधिक से अधिक पुलिस फोर्स लगाने की व्यवस्था की गई है उत्तर प्रदेश में कई पार्टियों की नजर पंचायत चुनाव पर रहेगी जिसका असर 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव पर पड़ेगा. इनमें कुछ पार्टियों का भविष्य पंचायत चुनाव ही निश्चित करेगा. प्रथम चरण का प्रचार हमने से पहले सभी प्रत्याशियों ने अपना-अपना जोर दिखाया है

 22000 लोगों को किया गया मुचलका पाबंद

 पंचायत चुनाव शांतिपूर्ण ढंग से संपन्न करने के लिए पुलिस ने सुरक्षा व्यवस्था के साथ ही 22000 लोगों को मुचलका पाबंद कर दिया. अति संवेदनशील गांव में जितने नामी अपराधी थे उन सबको मुचलका पाबंद कर दिया, इनके अलावा सामान्य श्रेणी में आने वाले गांव भी पुलिस की निगरानी में रहेंगे पत्रकार वार्ता में पुलिस अधिकारियों ने बताया कि पंचायत चुनावों में सुरक्षा व्यवस्था को लेकर हर संभव प्रयास किया जाएगा
 चुनाव संपन्न कराने के लिए मजिस्ट्रेट नियुक्त किए गए है
 पंचायत चुनाव शांतिपूर्ण कराने के लिए मजिस्ट्रेट को नियुक्त किया गया है जिसमें करीब 180 सेक्टर मजिस्ट्रेट को तैनात किया गया है और 30 जोनल मजिस्ट्रेट भी तैनात किए गए हैं पंचायत चुनाव सकुशल कराने के लिए मजिस्ट्रेट नियुक्त कर दिए गए हैं। सभी को अपना अपना एरिया निर्धारित कर दिया गया है सभी मजिस्ट्रेट अपने-अपने क्षेत्रों में गतिविधियों पर पूर्णतया नजर रखेंगे

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending